UTTERPARDESH CORONA VACCINATION : कोरोना वैक्सीन की जगह 3 बुजुर्ग महिलाओं को लगा दिया रैबिज का टीका, और फिर जो हुआ बेहद हैरान…

UTTERPARDESH CORONA VACCINATION : देश में कोरोना के मामले काफी तेजी से आगे बढ़ रहे है जिसे देखते हुए सरकार के द्वारा वैक्सीन लिए जाने की बात कही जा रही है। कोरोना महामारी से बचाव को लेकर यह बेहद जरूरी भी है जिसे देखते हुए लोग भी अब बढ़ चढ़ कर कोरोना वैक्सीन का डोज लगा रहे हैं। वही कोरोना वैक्सीन लगाने के दौरान कई बार तो लापरवाही भी सामने आ रही है।

बता दे कि ताजा मामला उत्तर प्रदेश के शामली का है जहां पर एक अस्पताल कर्मियों की बड़ी लापरवाही सामने आई है। जहां कोरोना वैक्सीन लगाने अस्पताल पहुंची 3 वृद्ध महिलाओं को कोरोना वैक्सीन की जगह रैबिज का टीका लगा दिया गया है । जिसके बाद एक महिला की हालत बिगड़ने लगी। इसे लेकर आक्रोशित महिला के परिजनों ने अस्पताल में जमकर हंगामा मचाया। परिजनों के हंगामे के बाद मौके पर पहुंचे स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने इस पूरे मामले की जांच कराने और साथ ही दोषियों पर कार्रवाई किए जाने की भी बात कही।

बता दे कि बुजुर्ग महिलाओं की पहचान सरोज, अनारकली और साथ ही सत्यवती के रुप में हुई है जो कि सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में कोरोना महामारी की पहली डोज लगवाने पहुंची थी। जहां पर एक अस्पताल के कर्मचारियों ने उनसे 10 रुपये वाली सिरिंज मंगवाया और फिर कोरोना की डोज की जगह उसे एंटी रैबिज का टीका लगा दिया। जिसके बाद सरोज नाम की एक महिला की हालत बिगड़ गई। अचानक उस महिला को चक्कर आने लगा और साथ ही उसे घबराहट भी होने लगी जिसके बाद आनन-फानन में उन्हें प्राइवेट क्लिनिक में ले जाया गया। जहां पर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र की पर्ची को देखकर प्राइवेट क्लिनिक के डॉक्टर भी पूरी तरह से हैरान हो गये।

वही महिला के परिजनों को प्राइवेट हॉस्पिटल के डॉक्टर ने बताया कि स्वास्थ्य केंद्र पर महिला को रैबिज का टीका लगाया गया है। जब उस बुजुर्ग महिलाओं के परिजनों को यह बात पता चला तो फिर उनके होश उड़ गये। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के कर्मचारियों की लापरवाही को लेकर परिजनों ने अस्पताल परिसर में जमकर हंगामा मचाया और साथ ही दोषियों पर कड़ी कार्रवाई किए जाने की भी मांग की।

बता दे कि इस पूरे मामले पर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी डॉ. बिजेन्द्र सिंह ने बताया कि 3 महिलाओं को कोरोना वैक्सीन के स्थान पर रैबिज का टीका लगाए जाने का मामला संज्ञान में आया है। मामले की जांच कर लापरवाह कर्मचारियों के विरुद्ध कार्रवाई भी की जाएगी।

वही शामली सीएमओ डॉ. संजय अग्रवाल ने कहा कि कांधला सीएचसी पर महिला को कोरोना की बजाय रैबिज का टीका लगा दिये जाने की जानकारी मिली थी जो कि जानकारी करने पर एक अफवाह पायी गई है। फिर भी मामले की जांच कराई जा रही है। बता दें कि तीनों बुजुर्ग महिलाओं को कोरोना वैक्सीन लगाये जाने का निर्देश दिया गया है।

Leave a Comment