उत्तर प्रदेश के योगी सरकार एक बार फिर से एक्शन में, सरकारी ज़मीन पर बनी थी 10 साल से मजार योगी सरकार ने कराई ज़मीं दोज़ ! “

उत्तर प्रदेश में अवैध निर्माण को लेकर योगी सरकार बेहद सख्त कदम उठा रही है. हाल ही में हरदोई जिले से यह खबर सामने आई है जहां पर काशीराम कॉलोनी में सरकारी जमीन पर एक अवैध रूप से बने एक धार्मिक स्थल को गिरा दिया गया है.

निर्माण को हटाने गए प्रशासनिक अधिकारियों के साथ भारी पुलिस बल भी वहां पर तैनात किया गया था। अधिकारियों ने बताया कि इस निर्माण को हटाने के लिए पहले से ही नोटिस जारी किया गया था. अधिकारी ने आगे यह भी कहा है कि अतिक्र मण करने वाले ने खुद अपने लोगों के साथ मिलकर इसे हटवाया.

जानकारी के मुताबिक काशीराम कॉलोनी में सरकारी जमीन पर अवैध कब्जा और साथ ही पूजा स्थल बनाने का मामला काफी समय पहले सामने आया था. इसके बाद से प्रशासन ने सख्ती दिखानी शुरू कर दी है.

सरकारी जमीन पर कब्जा करने वाले सगीर अहमद को भी नोटिस जारी किया गया है. सगीर अहमद ने अवैध निर्माण को हटाने के बाद जरूर कहा था लेकिन अब तक वह नहीं कर पाए हैं। ऐसे में प्रशासन और साथ ही कई अधिकारियों की मौजूदगी में टिन शेड से बनी अवैध पूजा को हटाया गया.

वही बताया ये भी जा रहा है कि नोटिस लैंड पर बनी इबादतगाह करीब 10 साल पुरानी है। यहां लोग नमाज पढ़ने आते थे। लेकिन मकबरा सरकारी जमीन पर था इसलिए यह कदम उठाया गया।

बता दे कि मजार पर जब बुल डोजर चलाया जा रहा था तो वहां भारी संख्या में पुलिस बल तैनात थे. इससे पहले भी हरदोई जिले में बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने भी मकबरे के निर्माण पर कार्रवाई की मांग की थी.

वही अब जब मजार पर यह कार्रवाई की गई है तो इसे विधानसभा चुनाव से जोड़कर भी देखा जा रहा है. इससे पहले बाराबंकी में भी फतेहपुर कस्बे की मुख्य सड़क और मुंशीगंज बाजार में बीच सड़क के बीच बने मजार को दूसरी जगह शिफ्ट किया गया था।

Leave a Comment