यूपी के बाराबंकी से एक दलित युवती से रेप के बाद बहुत बेरहमी से हत्या करने का मामला सामने आया है. जहां खेत में धान काटने गई एक युवती का हाथ पैर बांध कर हैवानों ने उसके साथ दरिंदगी की और उसके बाद उसकी बहुत ही बेरहमी से हत्या कर दी। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची युवती के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

यह भी पढ़ें : TRP Scam : अर्णब गोस्वामी की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई करने से किया इनकार, कहा- पहले हाइकोर्ट जाओ

वही पुलिस ने युवती का पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने से पहले ही परिवार वालों को समझा-बुझाकर, आश्वासन देकर अंतिम संस्कार कर दिया, युवती के पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद उसके साथ रेप के बाद गला दबाकर मौत की पुष्टि हुई जिसके बाद पुलिस ने धारा 376 के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया इसके साथ ही कुछ संदिग्धों को पूछाताछ के लिए हिरासत में भी लिया।

यह भी पढ़ें : सुशांत के करीबी दोस्त संदीप सिंह ने अर्णब गोस्वामी पर ठोका 200 करोड़ का मानहानि का केस

वही परिवार वालों का आरोप है कि पुलिस इस मामले को पहले से ही दबाने में लगी रही, और पुलिस अधिकारियों की मौजूदगी में पीड़िता के शव का पहले ही अंतिम संस्कार कर दिया, और पुलिस लगातार उन पर दबाव बना रही है। वहीं इस मामले में पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टर ने कहा कि ऐसा जगह में कृत्य अब तक नहीं देखा है।

यह भी पढ़ें : भोजपुरी में अश्लीलता पर बोलना रवि किशन को पड़ा भारी, यूज़र्स बोले खुद अश्लीलता फैलाने वाला, आज साधु बन गया।

बाराबंकी जिलाधिकारी डॉ आदर्श सिंह ने बालिका से हुई जघन्य वारदात की जानकारी दी. उन्होंने प्रेस नोट जारी कर 261/20, 302 आईपीसी के दर्ज मुकदमे में 376 बढ़ाने की पुष्टि की और घटना में निष्पक्ष जांच कराने के निर्देश दिए।इसके साथ ही प्रभारी पुलिस अधीक्षक आर एस गौतम ने अपने बयान में कहा कि प्रारंभिक जांच में सामने आए संदिग्धों से इस मामले लगातार जांच की जा रही है।

यह भी पढ़ें : मध्यप्रदेश चुनाव में 0 पर सिमटेगी BJP, कांग्रेस के खाते में आएगी 28 सीटें, सर्वे