बिहार के पूर्णिया जिले में मानवता को शर्मसार करने वाली खबर सामने आई है। वही खबर यह है कि जिले के कसबा थाना क्षेत्र के अंतर्गत नया सौतारी मोहनी में कुछ असामाजिक तत्वों ने जबरन घर में घुसकर दो महिलाओं और साथ ही एक नाबालिग लड़की को डायन बताकर रातभर बंधक बनाकर पीटा। और जब उनका इससे भी मन नहीं भरा तो फिर उन लोगों ने उन्हें जबरदस्ती मल-मूत्र पिला दिया।

वही इस संबंध में पीड़िता उर्मिला देवी ने कसबा थाना में आवेदन देकर कार्रवाई की गुहार लगाई है। बता दे कि आवेदन में उन्होंने 7 लोगों को नामजद आरोपी बनाया है। वही इस घटना के संबंध में बताया जाता है कि उर्मिला देवी पति रमेश हेंब्रम और उसकी बेटी बुलिया देवी पति बदरंगी मरिया जब रात को अपने घर में सोई हुई थी। तभी अचानक से सात लोगों ने जबरन सोमवार को रात के 12 बजे उनके घर में घुसकर दोनों के पैर हाथ बांधकर गिलास में मल मूत्र घोलकर उन्हें पिलाया।

इसके बाद जब काफी हो हल्ला होने पर अगल-बगल के लोग के जमा होने के बाद सातों लोग वहां से फरार हो गए। पीड़िता की मानें तो उनके फुफेरे भाई की नवविवाहिता पत्नी बीमार हो गई थी। वे लोग जब उसे देखने के लिए उनके घर गए तो महिला और साथ ही उनके परिजनों ने उनपर डायन होने का आरोप लगाया। साथ ही कहा कि इन्होंने ही जादू-टोना करके नवविवाहिता को बीमार किया है।

वही सामाजिक दबाव के वजह से पीड़िता ने मंगलवार को कस्बा थाना में लिखित आवेदन देकर शिकायत की। इस संबंध में कसबा थानाध्यक्ष चंदन कुमार ठाकुर ने आवेदन मिला है। आवेदन की जांच के लिए आवश्यक कदम उठाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि डायन बिसाही एक्ट समेत कई धाराओं में सात लोगों के खिलाफ प्राथमिकी भी दर्ज की गई है।

इस आर्टिकल को शेयर करें