आपको बता दें कि महंगाई की चक्की में आम आदमी लगातार पीस रहा है, वही मार्च के पहले दिन फिर से एलपीजी रसोई गैस सिलिंडर की कीमत में एक बार फिर उछाल आया है. वही आज कीमत में 25 रुपए का इजाफा हुआ है. फरवरी के महीने में रसोई गैस सिलिंडर की कीमत में 100 रुपए का उछाल आया था. वही इससे पहले 25 फरवरी को कीमत में उछाल आया था. पहले, 4 फरवरी को 25 रुपए, 14 फरवरी को 50 रुपए की बढ़ोतरी हुई थी. वहीं, 25 फरवरी को इसमें 25 रुपए का इजाफा हुआ था. फरवरी महीने में रसोई गैस का दाम में 100 रुपए बढ़ोतरी हुए .

वही फिर एकबार 14.2 किलोग्राम वाले एलपीजी रसोई गैस सिलिंडर 25 रुपए महंगा हुआ है. कीमत में आई तेजी के साथ अब राजधानी पटना में नयी कीमत बढ़कर 917.5 रुपये, साथ ही मुंबई में नई कीमत 819 रुपए, जबकि कोलकाता में 845.50 रुपए और साथ ही चेन्नई में 835 रुपए हो गई है. हालांकि जिस रफ्तार से रसोई गैस के दाम बढ़ते जा रहे हैं, जनता के खाते में सब्सिडी घटी हुई ही आ रही है. कुछ मीडिया रिपोर्ट की माने तो सरकार मिल रहे सब्सिडी को भी पूरी तरह से खत्म करने जा रही है जिसका असर मध्यम वर्ग पर अधिक होगा.

3 महीने में एलपीजी घरेलू गैस सिलेंडर 37.62 प्रतिशत तक हो गया है महंगा ।

आपको बता दें कि फरवरी महीने में 3 बार रसोई गैस सिलेंडर के दाम बढ़ाए गए थे। जनवरी में दाम शांत रहे। वही इससे पहले तेल कंपनियों ने दिसंबर में 2 बार दाम बढ़ाए थे। बता दें कि सरकार ने 4 फरवरी को सिलेंडर के दाम में 25 रुपए का इजाफा किया था। फिर उसके बाद 15 फरवरी को फिर से सिलेंडर के दाम 50 रुपए बढ़ाए गए थे और उसके बाद 25 फरवरी को तीसरी बार सिलेंडर के दामों में 25 रुपए बढ़ाई गई थी।

दिसंबर में भी दो बार बढ़े थे रसोई गैस के दाम

आपको बता दें कि तेल कंपनियों ने जनवरी में गैस की कीमत में कोई भी बदलाव नहीं किया था। हालांकि, दिसंबर में दो बार 50-50 रुपए की बढ़ोतरी आई थी। बजट वाले दिन यानी एक फरवरी को बिना सब्सिडी वाले 14.2 किलोग्राम रसोई गैस सिलेंडर की कीमतों में बढ़ोतरी नहीं हुई थी, हालांकि 19 किलोग्राम वाले कमर्शियल रसोई गैस सिलेंडर की कीमत में 191 रुपए की बढ़ोतरी हुई थी।