मजदूर पानी की बोतल पैरोंं में बांधकर चल रहे हैं, मगर PM को चिंता होगी कि अगला चुनाव कैसे जीता जाए :  कृष्णकांत

करोड़ों लोग पैदल सड़क पर भाग रहे हैं. चप्पल टूट गया है तो पानी की बोतल का प्लास्टिक पैरोंं में बांध कर चल रहे हैं.

भारत के कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद की चिंता है कि ‘राहुल गांंधी तकनीक कितना समझते हैं, इस पर चर्चा होनी चाहिए.’ प्रधानमंत्री को चिंता होगी कि अगला चुनाव जीतने लिए कौन सा मास्टरस्ट्रोक मारें.

रविशंकर जी, मैं मांग करता हूं कि चर्चा इस पर होनी चाहिए कि अब आगे इस देश को आपकी क्या जरूरत है? इस देश मेंं 1947 जैसा पलायन हो रहा है और आपकी चिंता राहुल गांधी हैं? यह सरकार इस देश पर बोझ बन गई जो इस सिर्फ ​इस देश के संसाधन लूट रही है और जनता का दमन कर रही है. इस सरकार को तुरंत चले जाना चाहिए.

सरकार की एकमात्र चिंता है कि झूठ और सच का घालमेल करके बहस जीत ली जाए. हर हाल में बहस जीत लेनी है, करोड़ों लोगों का जीवन संकट में है तो रहे.

करोड़ों गरीबोंं को जान बचाने का संकट है, इनको चैनलिया बुद्धि विलास सूझ रहा है. शर्म इनको मगर नहीं आती.

Leave a Comment