आपको बता दें कि बीते दिनों यरुशलम की अल–अक्सा मस्जिद पर शुक्रवार की नमाज से शुरू हुआ विवाद अब इजराइल और साथ ही फिलिस्तीन के बीच नाक का सवाल बन चुका है। फिलिस्तीन का संगठन हमास गाजापट्टी से इजराइल पर निशाना साध रहा है। तो वही इजराइल हमास के रॉ केट को अपने एयर डिफेंस सिस्टम से न ही सिर्फ हवा में ही नष्ट कर रहा है, बल्कि इजराइली एयरफ़ोर्स हमास के ठिकानें पर भी जवाबी कार्यवाही करके इजराइल ईंट का जवाब पत्थर से दे रही है।

इजराइल में सभी विपक्ष हुआ सरकार के साथ

हमास के खिलाफ कार्यवाही कर रही इजराइली सरकार को अब उनके देश के सभी विपक्षी पार्टी का भी समर्थन मिल रहा है। इजराइल के विपक्ष ने एक स्वर में कहा है की, दुश्मनों की हस्ती मिटा दो, हम साथ हैं। इजराइल में विपक्षी पार्टियों ने एक संयुक्त बयान जारी करते हुए कहा है की, ”राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़े मुद्दे पर हम बिलकुल भी राजनीति नहीं करेंगे, इस संकट के समय हम सरकार के साथ खड़े हैं। सरकार इस समय फिलिस्तीन के खिलाफ जो भी कार्यवाही कर रही है, वो बिलकुल सही हैं। इस तरह की घटनाएं होना असराहनीय है हम इसकी कड़ी निंदा करते है और साथ मिल कर इसका सामने करने के लिए भी पूरी तरह से तैयार हैं।

भारत की भी एक महिला आई चपेट में

आपको बता दें कि अधिकारियों के अनुसार , गाजा से फिलिस्तीन की ओर से दागे गए रॉ केट से इजराइल में 31 वर्षीय एक भारतीय महिला सौम्या संतोष का निधन हो गया। केरल के इदुक्की जिले की रहने वाली सौम्या संतोष दक्षिण इजराइल के तटीय शहर एशकेलोन में एक बुजुर्ग महिला की देखभाल का काम करती थी। वही मिली जानकारी के मुताबिक भारत में इजराइल के राजदूत रोन माल्का ने भारतीय महिला की शहादत पर ट्विटर पर शोक व्यक्त किया।

आपको बता दें कि इजराइल और फिलिस्तीन में बढ़ते हुए तनाव की भारत ने कड़े शब्दों में निंदा की है और साथ ही शांति बहाल करने पर जोर दिया। संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी प्रतिनिधि टी एस तिरुमूर्ति ने बुधवार को ट्वीट कर इस पुरे मुद्दे पर भारत का पक्ष रखा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here