DESK : आपको बता दें कि देश में कोरोना की दूसरी लहर से हर तरफ कोहराम मचा हुआ है. जबकि ऐसे में शादी-विवाह का भी मौसम चल रहा है और साथ ही लोगों की लापरवाही की वजह से कोरोना के कारण हो रही मौत की संख्या भी हर दिन बढ़ती ही जा रही है. और अब इसी बीच शादी के दूसरे ही दिन दूल्हे के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद हॉस्पिटल में उसकी मौत का मामला सामने आया है.

बता दे कि यह पूरा घटना राजस्थान के जालोर की है जहां पर एक नई नवेली दुल्हन दांपत्य जीवन में प्रवेश करने के साथ ही विधवा हो गई. कोरोना के चलते शादी के कुछ घंटों बाद ही दूल्हे को अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा. हालात बिगड़े तो जालोर अस्पताल से सिरोही और फिर पालनपुर अस्पताल में भर्ती किया गया. सब कुछ मात्र 9 दिनों में हो गया. नौवें दिन तो शाम होते-होते एक नौजवान कोरोना की जंग हार गया.

वही मिल रहीं जानकारी के मुताबिक, राजस्थान के जालोर के रायपुरिया निवासी ईश्वर सिंह देवड़ा की बेटी कृष्णा कंवर का विवाह 30 अप्रैल 2021 को जालोर के ही बैरठ निवासी शैतान सिंह के साथ हुआ था. कोरोना काल में लापरवाही दूल्हे को ही भारी पड़ गई. कोरोना काल में मास्क नहीं लगाना और साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग जैसी गाइड लाइन का बिल्कुल भी पालन नहीं करने का खामियाजा दूल्हे को जान से हाथ धोकर चुकाना पड़ा.

आपको बता दें कि शैतान सिंह 30 अप्रैल को अपनी ही शादी के नेकचार निभा रहा था. कोरोना महामारी के चलते इस दौरान उसकी हालत खराब होती चली गई और साथ ही अगले ही दिन 1 मई को उसे बारात विदा होने के बाद घर पहुंचते ही गृह प्रवेश की रस्म निभाई गई. तबीयत खराब होने पर दूल्हे शैतान सिंह को अस्पताल ले जाना पड़ा. शुगर लेवल 600 के करीब पहुंच गया. समय गुजरता गया और साथ ही शैतान सिंह की तबीयत भी समय के साथ बिगड़ती चली गई.

वही बताया ये भी जा रहा है कि जालोर में सुधार नहीं होने पर उसे सिरोही अस्पताल में भर्ती कराया गया, यहां से उसे पालनपुर ले जाया गया, लेकिन इस सब के बावजूद भी 9 मई को शैतान सिंह की मौत हो गई.