स्मृति ईरानी का नया ज्ञान, सरकार ने 80 करोड़ परिवारों तक राशन पहुंचाया, लोगों ने उड़ाया मजाक

लॉक डाउन जारी हैं तो वही सरकार अपने काम का ढिढोरा भी खूब पिट रही हैं. इस लॉक डाउन में जहाँ एक तरफ लोग पैदल घर की और अपने गांव की और भूखे प्यासे जा रहे हैं तो वही सरकार का दावा हैं की उसने 80 करोड़ परिवारों तक राशन पहुंचाया हैं.

राशन का मतलब सिर्फ गेहूं चावल और दाल चीनी से हैं तेल मसाले से नहीं. शायद ये लोग सिर्फ सूखा दाल चावल और गेहूं कहते हैं इसलिए इस सरकार को राशन नजर आ रहा हैं.

खैर सोशल मीडिया पर आजतक के डिबेट की एक तस्वीर वायरल हो रही हैं जिसमे स्मृति ईरानी ये दावा करते हुए नजर आ रही हैं की हमारी सरकार ने 80 करोड़ परिवारों को राशन पहुंचाया हैं.

आपको बता दे की देश की आवादी आज तक कुल मिलाकर 137 करोड़ के आसपास हैं अब आप मान लीजिये एक परिवार में 4 लोग भी रहते होंगे तो कितने करोड़ परिवार होंगे.

अब इसी पर समाजवादी नेता राजीव राय ने ट्वीट करते हुए लिखा ” मोदी जी ने भाषण में कहा था कि 600 करोड़ लोगों ने वोट दिया। स्मृति जी बता रही है 80 करोड़ परिवारों को राशन दिया ,यानि लगभग 400 करोड़ लोग. पहले आपस में निपटा लो कि देश की अबादी कितनी है? वैसे स्मृति जी अब तो मुझे आपकी प्राइमरी की पढ़ाई भी भयानक वाली लग रही.

Leave a Comment