देश में छाए भयंकर कोरोना संकट के बीच अब एक राहत की खबर सामने आई है। खबर ये है कि कोरोना से जंग जीतने वालों की संख्या में भी काफी तेजी से इजाफा देखने को मिला है। वही बीते 24 घंटों में रिकॉर्ड 3 लाख लोगों ने कोरोना संक्रमण से जंग जीत ली है। स्वास्थ्य विशेषज्ञ इसे एक बेहद सकारात्मक रुझान मान रहे हैं।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक बीते 24 घंटों के भीतर 299988 मरीजों ने कोरोना महामारी से जंग जीती है और वह अब पूरी तरह से स्वस्थ हुए हैं। जबकि पिछले कुछ दिनों से यह संख्या लगातार बढ़ रही हैं। यदि पिछले 5 दिनों के आंकड़ों को अगर देखें तो 30 अप्रैल को 297540, 29 अप्रैल को 269507, 28 अप्रैल को 261162, 27 अप्रैल को 251827 और 26 अप्रैल को 219272 लोग ठीक हुए हैं। वर्धमान महावीर मेडिकल कालेज के कम्युनिटी मेडिसिन विभाग के निदेशक प्रोफेसर जुगल किशोर ने कहा कि यह रुझान सकारात्मक है। यह रुझान यदि आगे भी जारी रहता है और साथ ही नए केस में भी गिरावट आती तो देश में सक्रिय मरीजों की संख्या में भी भारी कमी का दौर शुरू हो जाएगा।

महाराष्ट्र में कोरोना से स्वस्थ होने वालों की संख्या भी बढ़ी

मंत्रालय के आंकड़ों को देखें तो सर्वाधिक संक्रमित राज्य महाराष्ट्र ही है। वही अब कोरोना से संक्रमित होने वालों की तुलना में महाराष्ट्र में स्वस्थ होने वालों की संख्या भी काफी बढ़ रही है। महाराष्ट्र में रिकॉर्ड 69710 लोगों ने कोरोना महामारी से जंग जीती है। यह संख्या नए रोगियों की तुलना में कहीं अधिक है जिसके चलते अब राज्य में सक्रिय मरीजों की संख्या में 7619 की कमी हुई है। इसी प्रकार मध्य प्रदेश में भी 13584 मरीज स्वस्थ हुए हैं तथा सक्रिय मरीजों की संख्या में 1281 की कमी दर्ज की गई है। इसी प्रकार मिजोरम में सक्रिय मरीज 44, लद्दाख में 147 तथा दादरा नागर हवेली में 148 कम हुए हैं। मिजोरम में कोई नया मरीज नहीं आया है। पिछले 24 घंटों के दौरान उप्र में 32494, दिल्ली में 25288, केरल में 17500, तमिलनाडु में 16007, कर्नाटक में 14884, पश्चिम बंगाल 13932, छत्तीसगढ़ 13677 तथा बिहार में 11194 मरीज स्वस्थ हुए हैं।

कुल कोरोना से स्वस्थ हुए लोगों का 76 फीसदी बस 10 राज्यों में

स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक कोरोना संक्रमण से सर्वाधिक प्रभावित 10 राज्यों में कुल स्वस्थ हुए लोगों का 76 फीसदी है। इन राज्यों में महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश , दिल्ली, केरल, तमिलनाडु, कर्नाटक, पश्चिम बंगाल, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश और साथ ही बिहार भी शामिल हैं।