गाय के गोबर को लेकर कई तरह के दावे किए जाते रहे हैं, जिनको लेकर कई बार विवाद भी हुआ है। वहीं, एक बार फिर गाय के गोबर लेकर दावा किया गया है कि यह एंटी रेडिएशन (विकिरण विरोधी) है। दरअसल, इस बार यह दावा राष्ट्रीय कामधेनु आयोग (आरकेए) के अध्यक्ष वल्लभभाई कथीरिया की तरफ से किया गया है। 

यह भी पढ़ें : जबलपुर : दो युवकों ने ऑटो चालक को बुरी तरह पीटा, दोनों पैर तोड़े

राष्ट्रीय कामधेनु आयोग ने सोमवार को गाय के गोबर से बना एक चिप (Cow Dung Chip) लॉन्च किया है और कहा है कि इससे मोबाइल हैंडसेट्स का रेडिएशन काफी हद तक कम हो जाता है. आयोग के अध्यक्ष वल्लभ भाई कथीरिया ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि ‘हमने देखा है कि मोबाइल के साथ रखते हैं तो रेडिएशन काफी हद तक कम हो जाता है।

वल्लभ भाई कथिरिया का कहना है कि बीमारी से बचना है तो आगे आने वाले वक्त में यह भी काम आने वाला है.’ इसके साथ ही कामधेनु आयोग ने गाय के गोबर से बने कई दूसरे प्रॉडक्ट भी लॉन्च किए, जिनका लक्ष्य इस दीवाली पर प्रदूषण कम करने का है.

यह भी पढ़ें : हाथरस: योगी की पुलिस को लगाई फटकार, हाईकोर्ट ने पूछा- क्या अमीर लड़की होती तो भी शव इस तरह जलाते?

वल्लभ भाई कथीरिया ने कॉन्फ्रेंस में गोबर के दिए, शुभ-लाभ और गोबर के चिप भी दिखाए. उन्होंने कहा कि ‘गाय के गोबर से सबकी रक्षा होगी. ये सबकुछ घर में आएगा तो घर रेडिएशन फ्री हो जाएगा.’

यह भी पढ़ें : बेगूसराय : BJP नेता वंदना सिंह का केंद्रीय मंत्री गिरिराज पर जुबानी हमला, कहा वो तो दोमुंहा सांप है

वल्लभभाई कथीरिया ने कहा कि गाय का गोबर सभी की रक्षा करेगा, यह एंटी-रेडिएशन है. यह वैज्ञानिक रूप से सिद्ध है. यह एक विकिरण चिप है, जिसका उपयोग विकिरण को कम करने के लिए मोबाइल फोन में किया जा सकता है. यह आपको बीमारियों से सुरक्षित रखेगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here