उत्तर प्रदेश के हाथरस जिलें में बहुचर्चित दलित युवती के साथ दुष्कर्म और मौत की जांच अभी पूरी भी नहीं हुई है और जिलें में एक और मासूम दुष्कर्म का शिकार हो गई। जिलें के सासनी थानाक्षेत्र में हुई इस शर्मनाक घटना में चार साल की बच्ची के साथ उसके ही चचेरे भाई ने दुष्कर्म किया। सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने आरोपी युवक को गिरफ्तार कर लिया है और बच्ची का मेडिकल कराते हुए मामला दर्ज कर लिया है।

हाथरस की सासनी कोतवाली सासनी क्षेत्र के एक गांव में मंगलवार की शाम को चार साल की मासूम बच्ची से दुष्कर्म की वारदात हुई। उसके 20 वर्षीय चचेरे भाई ने टॉफी दिलाने के बहाने गलत काम किया। पुलिस ने बच्ची को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराने के साथ ही आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है। 

पुलिस के अनुसार बच्ची के ताऊ ने रिपोर्ट दर्ज कराते हुए कहा है कि बच्ची गांव में एक घर के बाहर खेल रही थी इसी दौरान गांव का ही एक युवक अरविंद उर्फ भूरा बच्ची को टॉफी दिलाने के बहाने अपने साथ घर ले गया और उसके साथ दुष्कर्म किया कुछ देर बाद रोती हुई बच्ची जब अपने घर पहुंची तो परिजनों को कुछ शंका हुई।

उन्होंने बच्ची से पूछताछ की तो घटना का पता चला इस पर परिचय बच्ची को लेकर अस्पताल पहुंचे और उपचार कराया घटना की जानकारी पुलिस को दी गई इसी बीच स्वास्थ्य केंद्र पर सैकड़ों ग्रामीणों की भीड़ लग गई सूचना मिलते ही क्षेत्रीधिकारी रुचि गुप्ता घटनास्थल पर पहुंच गई पूछताछ कर परिजनों एवं ग्रामीणों से तथ्य जुटाए।

परीक्षण करने के लिए स्लाइड बनाकर परीक्षण हेतु भेजी जाएगी प्रभारी निरीक्षक अश्वनी कौशिक ने बताया कि मासूम बच्ची के ताऊ ने मामले की तहरीर देकर कहा है कि गांव के ही युवक ने दुष्कर्म किया है इसी अपराध आधार पर रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है।