रामराज्य: सूटकेस में युवती की मिली लाश, दिनदहाड़े कासगंज में एक ही परिवार के तीन लोगों को मारी गोली

साहिबाबाद थानाक्षेत्र की दशमेष वाटिका के पास पुलिस को एक सूटकेस मिला. सूटकेस के अंदर युवती की लाश थी. पुलिस का मानना है कि युवती की हत्या कर शव को सूटकेस में बंद करके यहां फेंका गया है.

दिल्ली से सटे गाजियाबाद में सोमवार सुबह एक युवती की लाश मिलने से हड़कंप मच गया. साहिबाबाद थानाक्षेत्र की दशमेष वाटिका के पास पुलिस को एक सूटकेस मिला. सूटकेस के अंदर युवती की लाश थी. पुलिस का मानना है कि युवती की हत्या कर शव को सूटकेस में बंद करके यहां फेंका गया है.

मौके पर पहुंची पुलिस ने युवती की शिनाख्त की कोशिश शुरू कर दी है. पुलिस का मानना है कि युवती की हत्या कहीं और की गई और उसे सूटकेस में बंद करके कार से यहां फेंक दिया गया है. पुलिस आस-पास के सीसीटीवी फुटेज को खंगाल रही है.

रविवार को हुई थी 3 लोगों की हत्या 
उत्तर प्रदेश के कासगंज में रविवार को एक ही परिवार के तीन लोगों की हत्या से सनसनी फैल गई थी. बेखौफ बदमाशों ने ताबड़तोड़ गोलियां बरसाकर 3 लोगों की हत्या की और घटनास्थल से फरार हो गए थे. ये मामला सोरों कोतवाली क्षेत्र के होडलपुर का है. पहले ही ये बात कही जा रही थी कि ये मामला आपसी रंजिश है, जिसकी तस्दीक आईजी ने भी की है. फायरिंग की घटना में तीन लोगों की मौके पर ही मौत हो गई जबकि 2 का इलाज अस्पताल में चल रहा है. 


मृतकों की पहचान जौहरी के दो बेट प्रेम सिंह और पप्पू के तौर पर हुई है, वहीं रुद्र प्रताप की भी मौत हो गई है. घटना में प्रेम सिंह के दो बेटे गुड्डू और प्रमोद घायल हैं, जिन्हें अलीगढ़ मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया गया है.

2018 में भी सूटकेस में मिली थी लाश
इस घटना से करीब दो साल पहले यानी अप्रैल, 2018 में भी गाजियाबाद में एक सूटकेस में महिला टीचर की लाश मिली थी. पुलिस ने मृतका की पहचान गाजियाबाद निवासी माला के रूप में की थी. खास बात है कि जिस सूटकेस में माला की लाश मिली थी, उसे मायके वालों ने शादी के वक्त माला को दिया था.

माला के पति शिवम पर ही हत्या का आरोप लगा था. माला के पिता ने बताया था कि शादी के कुछ दिनों बाद जब माला मायके आई तो उसने कहा कि उसके पति ने रुपयों की मांग की है. पिता ने बताया कि मांग जो की तीन हजार से शुरू होकर पांच लाख और कार तक पहुंच गई थी.

Leave a Comment