उत्तर प्रदेश में जो घटना हुई है इसको लेकर विपक्ष दल और सामाजिक संगठन उत्तर प्रदेश सरकार की लापरवाही पर सवाल उठा रहे हैं उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था को लेकर कई तरह के सवाल उठ रहे हैं।

विपक्ष भी लगातार योगी सरकार को घेर रहा है इस बीच कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी दिल्ली में बाल्मीकि मंदिर मंदिर में दलित के लिए प्रार्थना सभा में शामिल हुई पूजा में शामिल हुई कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने कहा की हम अन्याय के खिलाफ लड़ते रहेंगे इंसाफ मिलने तक शांत नहीं बैठेंगे।

इसके साथ ही युवती के दाह संस्कार पर बोली रात में अंतिम संस्कार की परंपरा कहां की है बता दें कि गुरुवार को प्रियंका गांधी और राहुल गांधी हाथरस के लिए निकले थे हालांकि उनके काफिले को एक्सप्रेसवे पर ही रोक दिया गया जिसके बाद दोनों नेता पैदल ही हाथरस के लिए निकल पड़े ।

इस दौरान राहुल गांधी को धक्का-मुक्की का भी सामना करनी पड़ी उसके बाद राहुल गांधी और प्रियंका गांधी को पुलिस ने हिरासत में ले लिया भीर हटने के बाद दोनों नेताओं को वापस दिल्ली भेज दिया गया है।

वड़तालव है कि 14 सितंबर को उत्तर प्रदेश युवती के साथ हैवानियत हुई थी जिसके बाद इस दुनिया को अलविदा कह गई तभी से इस मामले ने तूल पकड़ लिया है इसमें राजनीतिकरण की भी एंट्री हो चुकी है अब देखना यह होगा कि कब तक पीड़िता को और पीड़िता के परिवार को न्याय मिलता है।