कोरोना संक्रमण महामारी की दूसरी लहर पूरे देश में बड़ी ही तेजी से फ़ैल रही है. कोरोना महामारी से पूरे देश में हाहाकार मचा हुआ है. वही बिहार समेत देश के और भी कई राज्यों में कर्फ्यू, नाइट कर्फ्यू और साथ ही वीकेंड लॉकडाउन का एलान किया गया है. बता दे कि ऐसे में कई लोगों के काम भी पूरी तरह से बंद पड़े हुए हैं. बॉलीवुड फिल्म इंडस्ट्री और भोजपुरी फिल्म इंडस्ट्री पर भी अब इसका भारी असर पड़ रहा है. इसी कड़ी में एक ताजा मामला सामने आया है. दरअसल आपको बता दें कि सेक्स रैकेट के धंधे में भोजपुरी की हीरोइन को पुलिस ने पकड़ा है, जिसके कोरोना के वजह से काम बंद हो जाने के कारण ये रास्ता अपनाया.

बता दे कि यह पूरा मामला मुंबई का है. जहां भोजपुरी फिल्म इंडस्ट्री में काम करने वाली हीरोइन को सेक्स रैकेट के धंधे में पुलिस के द्वारा गिरफ्तार किया गया है. मीरा भयंदर वसई विरार कमिश्नर सर्कल 1 के डीसीपी अमित काले के अनुसार देश में कोरोना काल में काम बंद हो जाने के वजह से कुछ दलाल लड़कियों को इस गलत धंधे में लेकर आये थे. पुलिस को इसकी सूचना मिल रही थी. लॉकडाउन के वजह से भोजपुरी फिल्मों या फिर वेब सीरीज में काम करने वाली हीरोइनों के पास भी अभी कोई नौकरी नहीं थी. इसलिए दलाल उन्हें भी वेश्यावृति के धंधे में लेकर आये.

बता दे कि डीसीपी अमित काले ने जानकारी देते हुए बताया कि पुलिस की एक टीम ने सेक्स रैकेट के अड्डे पर छापेमारी की ओर वहां से कुछ लोगों के साथ 5 लड़कियों को पकड़ा गया. बताया ये भी जा रहा है कि इसमें दलाल भी शामिल थे. पकड़ने के बाद हालांकि पुलिस ने सभी 5 लड़कियों को छोड़ दिया. इसमें भोजपुरी फिल्मों में काम करने वाली हीरोइन भी शामिल थीं.

पुलिस के अनुसार कुछ दलाल इस बात का फायदा उठा रहे हैं कि भोजपुरी फिल्मों या फिर वेब सीरीज में काम करने वाली युवतियों के पास इस समय नौकरी नहीं है. पैसे के लालच में युवाओं को वेश्यावृत्ति का लालच दिया जा रहा था.

बताया जा रहा है कि जब पुलिस को इसकी गुप्त सूचना मिली तो फिर पुलिस फर्जी ग्राहक बनकर गई और साथ ही लड़कियों की मांग की. वहां मौजूद दलाल पांच अन्य लोगों के साथ मीरा रोड पर एसके स्टोन के पास एक लॉज में ले गया. इस दौरान डीसीपी अमित काले की टीम ने जाल बिछाया और फिर लड़कियों के साथ पुलिस ने दो दलालों को भी पकड़ लिया. आरोपियों पर पीटा एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है. साथ ही पांच पीड़ित लड़कियों को रिहा कर दिया गया है.

गौरतलब हो कि इससे पहले सांगली जिले के अटपडी पुलिस स्टेशन के इंस्पेक्टर को कुछ महीने पहले सेक्स रैकेट में शामिल होने के वजह से गिरफ्तार किया गया था. सांगली शहर के पास करनाल रोड पर होटल रणवीर में हाई प्रोफाइल वेश्यावृत्ति से इनकार किया गया था.

आपको बता दें कि छापेमारी के दौरान एक पुलिस निरीक्षक सहित 6 लोगों को गिरफ्तार किया गया था, जबकि 2 लड़कियों को पकड़ने के बाद पुलिस ने उन्हें छोड़ दिया .