मोदी सरकार ने चीनी कंपनी को कश्मीर में 2 लाख स्मार्ट मीटर लगाने का दिया ठेका, राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरा

कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि केंद्र सरकार चीन की कंपनी को जम्मू-कश्मीर में बिजली के स्मार्ट मीटर लगाने का काम दे रही है जो राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरनाक है. कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने मंगलवार को कहा कि सरकार ने चीन की डोंगफेंग कंपनी को पिछले दरवाजे से संवेदनशील जम्मू कश्मीर में स्मार्ट मीटर लगाने का काम दिया है.

यह कंपनी चीन सरकार तथा वहां की सेना के सीधे नियंत्रण में काम करते हैं और विश्व बैंक ने भी इस कंपनी पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाया था. खेड़ा ने कहा कि यह कंपनी पाकिस्तान के साथ संबंध के कारण खूब चर्चा में रही है यह पाकिस्तान के नंदीपुर पावर प्रोजेक्ट के साथ काम कर चुकी है. इसी कंपनी को जम्मू कश्मीर में 2 लाख स्मार्ट मीटर लगाने का ठेका मिला है.

खेड़ा ने कहा कि स्मार्ट रिमोट मीटर नियंत्रित होता है और इससे हमारा पूरा डाटा चीन के पास पहुंचने का खतरा है. ऐसी कंपनी को इस तरह के संवेदनशील काम का ठेका देना राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा है. विशेषज्ञों का कहना है कि चीन सरकार के नियंत्रण वाली कंपनी को यह काम देने का मतलब है कि वह जब चाहे ब्लैक आउट कर सकते हैं.

खेड़ा ने आरोप लगाया कि आजकल साइबर हमला बहुत बड़ा खतरा बना हुआ है हाल में ऑस्ट्रेलिया में हमला हुआ और वहां की सरकार ने चीन पर आरोप लगाया भारत में 40 हमले हुए और यह सब हम हमले चीन ने कराए हैं.

Leave a Comment