मंदिर के पुजारियों ने दो औरतों को बंधक बनाया, कई दिन तक लगातार रेप करते रहे

आसाराम और राम-रहीम जैसा कांड एक बार फिर हुआ है। इस बार पंजाब के एक आश्रम में आश्रम प्रमुखों पर 2 युवतियों से रेप कर उन्हें बंधक बनाए जाने का मामला सामने आया है। लॉकडाउन के बीच आश्रम में बंधक बनी युवतियों ने बड़ी हिम्मत से काम लिया और अपने साथ हुई इस ज्यादती का खुलासा कर खुद को वहां से छुड़़ाया।

चेलों की शिकायत करने पर गुरुओं ने किया रेप: 

पीड़िताओं के मुताबिक रविवार को वो सूरज नाथ और नछत्तर नाथ की शिकायत लेकर आश्रम में पहुची थीं। आश्रम के दो प्रमुखों गिरदारी नाथ और गिरधीरीर वरिंदर नाथ के पास पहुंचकर उन्होंने उनके चेलों की गंदी हरकत के बारे में बताया। लेकिन बजाए इसके कि दोनों पुजारी महिलाओं को सुरक्षा या कानूनी मदद मुहैया कराते इन दोनों ने भी उनके साथ आश्रम के अंदर ही दुष्कर्म किया.

युवती की बात सुनकर परिजन हैरान रह गए। अनुसूचित जाति आयोग के एक सदस्य ने इस मामले में थाने में लिखित शिकायत दर्ज कराई। शिकायत दर्ज होने के बाद पुलिस तुरंत हरकत में आ गई। पुलिस ने आश्रम में छापा मारकर बंधक बनाई गई दोनों लड़कियों को छुड़ा लिया और दोनों आश्रम प्रमुखों को भी गिरफ्तार कर लिया।

Photo: The Lallantop


इस मामले में पुलिस ने इन दोनों पर विभिन्न धाराओं में केस दर्ज किया है। यहां के उप पुलिस अधीक्षक गुरप्रताप सिंह ने बताया कि लिखित शिकायत दर्ज होने के बाद पुलिस ने कार्रवाई की है। मजिस्ट्रेट की उपस्थिति में दोनों आश्रम प्रमुखों की गिरफ्तारी हुई है।

Leave a Comment