कोरोना बुलेटिन देने वाले लव अग्रवाल भी निकले पॉजिटिव, सिस्टम पर उठे सवाल

देश को रोजाना कोरोना वायरस महामारी का आंकड़ा बताने वाले स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के संयुक्‍त सचिव लव अग्रवाल खुद इसकी चपेट में आ गए हैं. लव अग्रवाल की शुक्रवार को कोविड-19 रिपोर्ट पॉजिटिव आई है.

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय भारत सरकार के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल (Health Ministry Official Lav Agarwal) की कोविड-19 रिपोर्ट (COVID-19 Report) पॉजिटिव आई है. लव अग्रवाल ने खुद ही इसकी जानकारी दी है. उन्होंने ट्वीट किया, ‘डियर ऑल, आप सभी को सूचित करता हूं कि मैं कोरोना पॉजिटिव पाया गया हूं. दिशानिर्देशों के अनुसार होम आइसोलेशन में हूं. मैं अपने सभी दोस्तों एवं सहयोगियों से अनुरोध करता हूं कि वे स्वयं की देखभाल करें. स्वास्थ्य टीम की ओर से कॉन्ट्रैक्ट ट्रेसिंग किया जाएगा. जल्द मुलाकात होगी.’ स्‍वास्‍थ्‍य सचिव और लव अग्रवाल एक ही कार साझा करते हैं. स्‍वास्‍थ्‍य सचिव ने गुरुवार को स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री के साथ बैठक की थी. जिसमें नीति आयोग के सीईओ भी मौजूद थे. ऐसा कहा जा रहा है कि स्‍वास्‍थ्‍य सचिव और स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री क्‍वारंटाइन में जाएंगे. लव अग्रवाल को बिना लक्षण वाला कोरोना है.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने शुक्रवार को कहा कि कोविड-19 महामारी के प्रभावों को कम करने के लिए भारत ने सर्वश्रेष्ठ प्रयास किये हैं और कोरोना वायरस रोगियों के स्वस्थ होने की दर दुनिया में सर्वाधिक है जबकि मृत्यु दर सबसे कम है. एक आधिकारिक बयान के अनुसार, दिल्ली चिकित्सा संघ (डीएमए) के 106वें स्थापना दिवस समारोह में हर्षवर्धन डिजिटल तरीके से शामिल हुए. उन्होंने कहा कि शुरुआत में कोरोना वायरस नमूनों की जांच के लिए केवल एक प्रयोगशाला थी, लेकिन अब देश में 1,400 से अधिक प्रयोगशालाएं हैं.

हर्षवर्धन के हवाले से बयान में कहा गया, ‘हमने कोविड-19 महामारी के असर को कम करने के लिए अपने सर्वश्रेष्ठ प्रयास किये हैं. हमारे देश में संक्रमितों के स्वस्थ होने की दर दुनिया में सर्वाधिक है जबकि मृत्यु दर सबसे कम है.’ उन्होंने कोरोना वायरस के खिलाफ अपनी जिम्मेदारी निभाते हुए जान गंवाने वाले 245 कोरोना योद्धाओं को अपनी श्रद्धांजलि दी जिनमें डॉक्टर, नर्स और अर्द्धचिकित्सा कर्मी शामिल हैं.

Leave a Comment