JNU Student khaniya Kumar : आपको बता दें कि शनिवार को छत्तीसगढ़ के सुकमा बीजापुर की सीमा पर जूनागढ़ गांव में नक्सलियों और पुलिस कलयुग के बीच मुठभेड़ हो गई है जिसके अंदर सुरक्षा बल के 24 जवान शहीद हो गए हैं! वहीं दूसरी और 15 से अधिक नक्सली भी इस हमले में मारे गए हैं। वही अब इन सब के बीच जेएनयू के छात्र नेता कन्हैया कुमार का भी सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है! जिसके अंदर में सुरक्षाकर्मियों को मारने वाले नक्सलियों को ना तो सिर्फ भोला भाला बता रहे हैं बल्कि इसके साथ ही उनके लिए शहीद के दर्जे की भी मांग कर रहे हैं!

बता दे कि जवाहरलाल यूनिवर्सिटी के पूर्व छात्र नेता कन्हैया कुमार का यह वीडियो भारतीय जनता पार्टी के नेता और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के सूचना सलाहकार शलभ मणि त्रिपाठी ने ट्विटर पर शेयर किया है! वहीं उन्होंने इस वीडियो को शेयर करते हुए लिखा है कि “देश और संविधान के खिलाफ खूनी जंग छेड़ने वाले गुनाहगार इनकी नजर में भोलेभाले हैं, और ये उनके लिए शहीद का भी दर्जा चाहते हैं !! JNU में पले कुछ ऐसे अनपढ गद्दारों से बेहतर तो गांवों की पाठशालाओं के पढ़े नौजवान हैं,उनके हृदय में सेना और राष्ट्र के लिए जज्बा और प्यार तो है !! शहीदों को शत शत नमन !!”

आपकी जानकारी के लिए आपको बता दें कि शलभ मणि त्रिपाठी ने इस वीडियो को शेयर किया है! उसमें JNU के छात्रः कन्हैया कुमार एनडीटीवी के पत्रकार रवीश कुमार को दिए एक इंटरव्यू में कह रहे हैं कि सारे सहीदो को शहादत का दर्जा देना चाहिए और साथ ही जो इन शहीद इनको शहीद बना रहे हैं उनके खिलाफ जंग भी छिड़ी जाए मैं तो यह कहता हूं कि जिन्हें नक्सली बताकर मारा जा रहा है वह भी शहीद है वो भी भोले भाले आदिवासी हैं!