इजराइल ने एक बार फिर भरी हुंकार, कहा किसी भी ग़लतफ़हमि में ना रहे, हमास को तो पूरी..

आप सभी को बता दे कि गाजा सिटी में 21 मई के दिन इजराइल की घोषणा के साथ गाजा में शांति बहाल होने की उदघोषना होने के बाद शुक्रवार को हजारों फलस्तीनियों ने इस खुसी के मोके पर खूब जश्न मनाया। वही उनमें से कई लोगों ने कहा कि वो स्तिथि बेहद भयावय थी। हमे यह मामला बहुत महंगा साबित हुआ परंतु यह हमास की पूर्ण रूप से जीत है। वहीं, इजराइल ने मुखर अंदाज में चेतावनी दी है कि यदि अगर आगे कोई इस तरह कार्रवाई की गई तो फिर वह ”नए सिरे के साथ अपनी पूरी ताकत” से इसका जवाब देगा।

200 से भी ज्यादा लोग खुद को नहीं बचा सके

बता दे कि 11 दिन चले इस संघर्ष में 200 से भी अधिक लोग अब नहीं रहे, जिसमें अधिकतर फिलिस्तीनी हैं। वही इस संघर्ष में हमास शासित गाजा पट्टी में बड़े पैमाने पर नुकसान हुआ है, जो कि पहले से ही एक खस्ताहाल जगह है।

पूरी ताकत से की जाएगी अब जवाबी कार्य वाही

इजराइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने गुरुवार को तीखे शब्दों में चेताया है कि अगर आगे इस तरह के कोई और किसी तरह का खटर–पटर करता है तो फिर उसका ”नए सिरे से पूरी ताकत के साथ ” जवाबी कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने ये भी कहा कि ,”अगर हमास यह सोचता है कि हम रॉकेट के इस्तेमाल को बर्दाश्त कर लेंगे तो फिर वह पूरी तरह से गलत है। यदि आगे कोई और कुछ भी इस तरह के चीज करने की कोशिश करता है तो फ़िर उसका नए सिरे से पूरी ताकत के साथ जवाब दिया जाएगा।”

100 किलोमीटर के सुरंग को बनाया था निशाना

बता दे कि नेतन्याहू को अपने देश के लोगों द्वारा कड़ी आलोचना का सामना करना पड़ रहा है। जो कि यह कह रहे हैं कि उन्होंने बेहद जल्दबाजी में यह संघर्ष रोकने की घोषणा कर दी। नेतन्याहू ने कहा है कि इजराइल की कार्य वाही में अब तक 200 से भी ज्यादा लोग नहीं रहे। जिसमे की हमास के 25 कमांडर भी शामिल है । उन्होंने आगे कहा कि खुराफातियों की 100 किलोमीटर से भी अधिक सुरंगों को निशाना बनाया गया।

इस आर्टिकल को शेयर करे

Leave a Comment