उत्तरप्रदेश में YOGI सरकार ने की बड़ी करवाई, सरकारी जमीन पर बने इबादतगाह को हटवाया

YOGI government removed the worship place built on government land: उत्तर प्रदेश के हरदोई जिला से यह खबर सामने आ रहा है कि यहां पर प्रशासन ने एक 10 साल पुरानी बनी हुई इबादतगाह को हटवा दिया है ! उत्तर प्रदेश के योगी आदित्यनाथ की सरकार सरकारी जमीन को कब्जा करके बनी ढाचों के खिलाफ पहले से ही कार्रवाई का आदेश दे चुकी है!

बता दे कि हरदोई में इस इबादतगाह को भी सरकारी जमीन पर अवैध कब्जा करके ही बनाया गया था! हरदोई के देहात कोतवाली क्षेत्र स्थित कांशीराम कालोनी की यह कार्यवाही की गई थी। वही इस दौरान वहां बड़ी संख्या में पुलिस को भी तैनात किया गया था। इस इबादत गाह को हटाने से पहले ही सगीर अहमद नामक शख्स को नोटिस भी जारी किया गया था!

हालांकि आपको बता दें कि दरगाह को हटाने का काम पुलिस-प्रशासन ने नहीं, बल्कि खुद अतिक्र मणकारियों ने किया था। इस दौरान प्रशासन के लोग बस वहां पर मौजूद रहे। अतिक्र मणकारियों ने अपने लोगों के साथ मिलकर उस अवैध पूजा स्थल को ध्वस्त कर दिया। बता दें कि इस संबंध में प्रशासन को सूचना मिली थी कि वहां अवैध पूजा से लोगों को परेशानी हो रही है. टिन-शेड से निर्मित।

वही इसे हटाने की कार्रवाई शुक्रवार (25 जून 2021) को की गई। इबादतगाह के मुतवल्ली सगीर अहमद ने बताया है कि यह पूजा स्थल इस कॉलोनी के बनने के समय से ही यहां स्थित है। इसकी स्थापना हुए एक दशक हो चुका है। पहले यहां सिर्फ तिरपाल ही लगाया जाता था।

आपको बता दें कि बजरंग दल समेत अन्य हिंदू संगठनों ने भी इस अवैध ढांचे पर आपत्ति जताई थी। इस दौरान आसपास के लोगों ने भी इसे हटाने में मदद की. पुलिस ने लोगों को पहले से ही विश्वास में ले लिया था और साथ ही वे इसे हटाने के लिए भी तैयार हो गए। उत्तर प्रदेश में ऐसे पूजा स्थलों/पूजा स्थलों को राजमार्गों या फिर सरकारी संपत्ति पर कब्जा कर हटाया जा रहा है। इसी क्रम में कुछ अवैध क ब्रों को भी हटाया गया है।

Leave a Comment