PATNA : आपको बता दें कि पटना से एक ऐसे शख्स को गिरफ्तार किया गया है जो कि सेना में बहाली के नाम पर ठगी करता था. वही इस जालसाज का नाम अंजनी कुमार बताया गया है और इसके साथ ही पुलिस ने सेना के सेंट्रल कमांड की दानापुर स्थित मिलिट्री इंटेलिजेंस यूनिट के इनपुट पर कार्रवाई करते हुए इसे गिरफ्तार किया है. बता दे कि जालसाज अंजनी कुमार ने अब तक सेना में बहाली कराने के नाम पर कई लोगों के साथ ठगी की है. वही गिरफ्तारी के बाद इसके ठिकाने से भी कई सारे दस्तावेज भी बरामद किए गए हैं. इस में स्कूलों के फर्जी रबर स्टैंप से लेकर अन्य तरह के डॉक्यूमेंट शामिल हैं. वही पुलिस को उसके घर से ₹55,000 कैश और साथ ही कई लोगों के बैंक डिटेल भी बरामद किए गए हैं.

दरअसल आपको बता दें कि भोजपुर जिले के चरपोखरी के रहने वाले मुकेश कुमार ने सैन्य अधिकारियों को इस बात के बारे में शिकायत दर्ज कराई थी. उन्होंने ये बताया था कि दिसंबर 2020 में अपने भाई की सेना में बहाली के लिए दानापुर आने के दौरान ही मैनपुरा मस्जिद गली के रहने वाले अभिषेक कुमार से मुलाकात हुई थी . वही बातचीत के बाद अभिषेक कुमार ने सेना में काम करने वाले मोनू कुमार सिंह के माध्यम से बहाली कराने की बात कही. झांसे में आने के बाद अभिषेक कुमार ने बहाली कराने के लिए ₹2,60,000 ले लिए और साथ ही अंजनी कुमार के खाते में उस राशि को ट्रांसफर कराई गई. इसके अलावे ₹5,80,000 लिया गया. अभिषेक के कहने पर उन्होंने अपने भाई का सर्टिफिकेट भी अंजनी कुमार को दे दिया लेकिन बहाली ही नहीं हो पाई. और उसके बाद में अभिषेक और अंजनी ने उस रकम को भी वापस नहीं की. इस संबंध में दानापुर थाने में भी मुखेंज की तरफ से कंप्लेंट दर्ज कराई गई थी.

आपको बता दें कि अंजनी और अभिषेक के साथ-साथ इस मामले में और भी किसी बड़े रैकेट के होने की आशंका जताई जा रही है. अंजनी कुमार के पास से जिन लोगों के बैंक डिटेल मिले हैं पुलिस उसकी पूरी जानकारी भी खंगाल रही है. बता दे कि दानापुर छावनी में बहाली के नाम पर लोगों से ठगी करने के अब तक करीब दो दर्जन से भी अधिक मामले केवल पिछले 5 वर्षों में दर्ज हो चुके हैं. वही नवंबर 2017 को बहाली के नाम पर ठगने वाले सूरज कुमार तिवारी और साथ ही अनुज आवाज को पकड़ा गया था लेकिन उसके बाद भी कई सारे मामले सामने आते रहे और अब ये मामला अंजनी कुमार की गिरफ्तारी के बाद किसी बड़े रैकेट की आशंका से बिल्कुल भी इनकार नहीं किया जा सकता.