सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा हैं. जिसमे एक लड़की ने दावा किया है की उसके स्कूल महीनों से यहाँ पढ़ने वाली लड़कियों का रेप होते आया है मीडिया से बातचीत करते हुए दावा सब करतूतों में स्कूल के ही हेडमास्टर और स्कूल के टीचर शामिल है.

जिला परिषद कृषि महाविद्यालय की पांच छात्राओं ने अपने कॉलेज के प्रिंसिपल और दो शिक्षकों पर यौन उत्पीड़न और शारीरिक शोषण का आरोप लगाया है। छात्राओं का आरोप है कि कॉलेज की अन्य कई छात्राओं के साथ बलात्कार किया गया। लेकिन प्रिंसिपल के डर के आगे कोई मुंह खोलने को तैयार नहीं। वहीं इस मामले में पुलिस का कहना है कि फिलहाल सिर्फ एक छात्रा की शिकायत उनके पास आई है। उसकी शिकायत के आधार पर मुकदमा दर्ज किया गया है। अन्य छात्राओं से बात कर उनके बयान भी दर्ज किए जाएंगे।

इस मामले में कॉलेज प्रिंसिपल आरके गुप्ता ने खुद को बेकसूर बताया है। उनका कहना है कि उन पर लगे आरोप बेबुनियाद हैं। उन्होंने किसी के साथ छेड़छाड़ नहीं की। इस घटना की सूचना उन्होंने प्रबंधक सरिता द्विवेदी (भाजपा विधायक प्रकाश द्विवेदी की पत्नी) को दी है। उन्होंने बताया कि एक छात्रा उनके पास प्रशांत नामक शिक्षक की शिकायत लेकर आई थी जिसके बाद उन्होंने शिक्षक को नौकरी से बर्खास्त कर दिया था।

उधर, सीओ सिटी आलोक मिश्रा का कहना है कि एक छात्रा द्वारा अपने प्रिंसिपल और दो शिक्षकों पर छेड़खानी की शिकायत की गई है। उसकी शिकायत के आधार पर अभियोग पंजीकृत करा दिया गया है। विवेचना में जो भी तथ्य सामने आएंगे उसके अनुसार कार्रवाई की जाएगी। कॉलेज में छात्राओं से जुड़ी सुरक्षा कमिटी की भी जांच होगी।