गुजरात कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष बनाए गए हार्दिक पटेल

पाटीदार आरक्षण आंदोलन के अगुआ एवं कांग्रेस के युवा नेता हार्दिक पटेल गुजरात कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष नियुक्त कर दिए गए हैं। रविवार शाम को गुजरात कांग्रेस ने हार्दिक के कार्यकारी अध्यक्ष नियुक्त किए जाने की पुष्टि कर दी। बताया जा रहा है कि कांग्रेस का एक खेमा चाहता है कि युवा नेता हार्दिक पटेल को मोरबी सीट से चुनाव लड़ाया जाए। पार्टी सूत्रों की मानें तो इसी के चलते कांग्रेस की अध्यक्षा सोनिया गांधी ने यह फैसला किया है।

8 सीटों पर होने हैं उप चुनाव

गुजरात में राज्‍यसभा की चार सीट पर गत माह हुए चुनाव से पहले कांग्रेस के आठ विधायकों ने विधानसभा की सदस्‍यता से इस्‍तीफा दे दिया था। इसी के चलते कच्‍छ की अबडासा, सौराष्‍ट्र की गढडा, धारी, मोरबी, लींबडी, मध्‍य गुजरात की करजण, दक्षिण गुजरात की कपराडा व डांग पर चुनाव प्रस्‍तावित हैं। भाजपा ने अपनी सरकार के मंत्रियों को एक एक सीट का प्रभारी नियुक्‍त जीत की जिम्‍मेदारी सौंपी है।

राजद्रोह के आरोप में अरेस्ट हो चुके हैं हार्दिक पटेल

गौरतलब है कि 25 अगस्त, 2015 को अहमदाबाद में GMDC मैदान में पाटीदार आरक्षण समर्थक रैली हुई थी। रैली के बाद राज्य के कई शहरों में तोड़फोड़ और हिंसा हुई थी। क्राइम ब्रांच ने उसी साल अक्टूबर में हार्दिक पटेल व अन्य लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया था। पुलिस ने अपनी चार्जशीट में हार्दिक और उनके कुछ सहयोगियों पर आरोप लगाया कि उन्होंने राज्य में हिंसा फैलाने और चुनी हुई सरकार को गिराने का षडयंत्र रचा था। रैली के दौरान हिंसा भड़कने के बाद स्थानीय अपराध शाखा ने राजद्रोह का मुकदमा दर्ज कर पटेल को पहले भी गिरफ्तार किया था।

Leave a Comment