उत्तर प्रदेश के बदमाशों के हौसले सातवें आसमान पर है। आलम ये है कि यहां पुलिस भी सुरक्षित नहीं है। उत्तर प्रदेश में कानपुर के बिठूर में बदमाशों ने दबिश देने गई पुलिस टीम पर बदमाशों ने अंधाधूंध फायरिंग कर दी। इस फायरिंग में सीओ और एसओ समेत 8 पुलिसकर्मी शहीद हो गए। इस फायरिंग में 6 पुलिसकर्मी घायल भी हुए हैं। सभी घायल पुलिसकर्मियों को गंभीर हालत में रीजेंसी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

बताया जा रहा है कि पुलिस विकास दुबे नामक हिस्ट्रीशीटर को पकड़ने के लिए विकरू गांव में गई थी। खुद को घिरता देख विकास दुबे और उसके साथी घर की छतों से पुलिस पर अंधाधुंध गोलियां बरसाने लगे। यूपी के डीजीपी हितेंद्र चंद्र अवस्थी ने कहा कि पुलिस को रोकने के लिए बदमाशों ने रास्ते में जेसीबी लगा दी थी। योजना बनाकर हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे और उसके साथियों ने पुलिस टीम पर हमला किया।

ये घटना शिवली थाना क्षेत्र के विकरू गांव की है जहां देर रात पुलिस दबिश देने गई थी। मामले की जानकारी मिलते ही मौके पर एडीजी कानपुर जोन, आईजी रेंज, एसएसपी कानपुर समेत कई जनपदों की पुलिस फ़ोर्स मौके पर मौजूद हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शहीद पुलिसकर्मियों को श्रद्धांजलि दी और उनके परिजनों के लिए संवेदना व्यक्त की। सीएम योगी ने बदमाशों पर सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। वो अपर मुख्य सचिव और डीजीपी के लगातार संपर्क में हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here