गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत (Pramod Sawant) ने रोजगार को लेकर अजीबोगरीब बयान दिया है। एक तरफ जहां भाजपा बिहार विधानसभा चुनाव में युवाओं को नौकरी देने की बात कर रही है, तो वही दूसरे भाजपा शासित राज्य गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने बयान देते हुए कहा है कि अगर भगवान भी राज्य का सीएम बन जाए तब भी वह सभी बेरोजगारों को नौकरी नहीं दे सकते।

मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने यह बयान नौकरी के मुद्दे पर वर्चुअल रूप में पंचायत प्रतिनिधियों से बातचीत के दौरान दिया। दरअसल मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत अपनी सरकार की महत्वकांक्षी “स्वयंपूर्ण मित्र” आउटरीच पहल को लांच करने पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने कहा कि अगर कल को खुद भगवान भी सीएम बन जाए तो उनके लिए भी सभी को नौकरी देना संभव नहीं होगा।

सीएम प्रमोद सावंत ने कहा कि बेरोजगारों को हर महीने 8 से 10000 तक के काम मिलने चाहिए। उन्होंने कहा कि गोवा में ऐसी कई सारी नौकरियां है। जिसे बाहरी लोग हासिल कर लेते हैं। उन्होंने कहा कि “स्वयंपूर्ण मित्र” पहल के तहत गांव के बेरोजगारों को नौकरियां दी जाएगी। उन्होंने बताया कि वर्तमान में राज्य में बेरोजगारी दर 15.4% है।