महाराष्ट्र में कोरोना महामारी के कहर के बीच अब एक और डराने वाली खबर सामने आई है। बता दें कि महाराष्ट्र के बुलढाणा जिले के एक गांव में भोज के बाद से कोरोना विस्फोट हुआ है। बुलढाणा के एक गांव में एक साथ 93 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं, जिनमें से बहुत से लोग एक भोज में शामिल हुए थे। सूत्रों ने मंगलवार को यह जानकारी दी है ।

वही स्थानीय अधिकारियों ने 700 से भी ज्यादा लोगों की जनसंख्या वाले पोटा गांव को निषिद्ध क्षेत्र घोषित कर दिया है। बता दें कि एक स्थानीय अधिकारी ने बताया है कि इस महीने की शुरुआत में एक जांच शिविर में 15 ग्रामीण संक्रमित पाए गए थे और साथ ही इसके कुछ ही दिन बाद आयोजित दूसरे शिविर में 78 लोगों में कोरोना के संक्रमण पाया गया था।

वही अधिकारी ने उन खबरों पर प्रतिक्रिया नहीं दी जिसके मुताबिक संक्रमण का शिकार होने से पहले अधिकतर लोग पोटा में एक भोज में शामिल हुए थे। हाल ही में खामगांव में कोविड-19 के एक रोगी की मौत होने के बाद से पोटा में भोज का आयोजन किया गया था। वही वहां के एक ग्रामीण ने बताया कि भोज में बहुत से लोग शामिल हुए थे।

आपको बता दें कि अधिकारी ने कहा है कि गांव को निषिद्ध क्षेत्र घोषित कर दिया गया है और साथ ही वहां पर अधिक से अधिक लोगों की जांच भी की जा रही है। उन्होंने ये भी बताया कि लक्षण वाले मरीजों को कोविड केंद्र में स्थानांतरित किया जा रहा है और साथ ही बिना लक्षण वाले संक्रमितों को घर पर पृथक-वास में रहने के लिए कहा जा रहा है।