73 साल में पहली बार पेट्रोल डीजल दोनों के दाम बराबर महंगाई अब डायन नहीं विकास की मौसी हो गई ?


पेट्रोल के दाम लगातार बढ़ने के बावजूद वह लोग शांत हैं जो कांग्रेस सरकार में दाम बढ़ने पर खूब ट्वीट किया करते थे।  सवाल यह उठता है कि क्या इन नेता और अभिनेताओं को पेट्रोल की कीमत ज्यादा नहीं लग रही है या ये सरकार के पल्लू में छुपकर बैठ गए हैं?

भारत में पेट्रोल के दाम लगातार बढ़ते जा रहे हैं। पिछले 17 दिन से पेट्रोल और डीजल के दाम रोज बढ़े हैं। देश के कई शहरों में पेट्रोल के दाम 80 रुपये से ऊपर निकल गए हैं। डीजल के दाम भी पेट्रोल के आस-पास पहुंच गए हैं।


दिल्ली में पेट्रोल और डीजल के दामों के बीच बस 36 पैसे का अंतर रह गया है। यदि एक-दो दिन और ऐसे ही दाम बढ़े तो पेट्रोल और डीजल की कीमत एक समान हो जाएगी। यदि ऐसा हुआ तो यह पहला मौका होगा जब पेट्रोल और डीजल के दाम एक समान होंगे।


पिछले कई दिनों दिनों से बढ़ रहे दाम के कारण पेट्रोल में 8.5 रुपये की तो डीजल के दाम में 10.01 रुपये की बढ़ोतरी हो चुकी है। मुंबई में अब एक लीटर पेट्रोल की कीमत 86.54 रुपए हो गई है जबकि डीजल 77.76 रुपए प्रति लीटर बिक रहा है।


पेट्रोल और डीजल के दाम तब बढ़ रहे हैं जब अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल की कीमत काफी कम है। सरकार कच्चे तेल के सस्ते होने का फायदा शायद जनता को नहीं देना चाह रही है। सोनिया गांधी ने इसको लेकर सवाल भी उठाया था।


पेट्रोल के दाम लगातार बढ़ने के बावजूद वह लोग शांत हैं जो कांग्रेस सरकार में दाम बढ़ने पर खूब ट्वीट किया करते थे। दो वीडियो देखिए जिसमें स्मृति ईरानी मनमोहन सरकार के खिलाफ महंगाई और पेट्रोल डीजल के रेट बढ़ने पर प्रोटेस्ट करते नजर आ रहे हैं

तब सवाल बनता है कि जब 73 साल में पहली बार पेट्रोल और डीजल दोनों के रेट बराबर होने वाले हैं तब Smirti Zubin Irani चुप क्यों है क्या महंगाई अब डायन नहीं हो के विकास की मौसी हो गई है ?

इस कड़ी में अक्षय कुमार से लेकर अनुपम खेर जैसे नाम भी शामिल हैं।
मैं आपको उनके द्वारा 2012 में किये गए ट्वीट को दिखाता हूँ-

उपरोक्त फ़ोटो को देखकर आप अंदाजा लगा सकते हैं कि किस प्रकार से अभिनेताओं ने सरकार पर हमला बोला था। अमिताभ बच्चन जैसे महानायक भी पीछे नहीं रहे थे। उन्होंने भी पेट्रोल की कीमत को लेकर सरकार पर तंज कसा था।

जब ये अभिनेता सरकार पर तंज कस रहे थे तब अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल की कीमत काफी ज्यादा हो गई थी। उस समय एक बैरेल कच्चे तेल की कीमत 150 डॉलर के आस-पास पहुंच गई थी। तब देश में पेट्रोल की कीमत करीब 75 रुपये थी।
वर्तमान में जब एक बैरेल कच्चे तेल की कीमत 50 डॉलर के अंदर है तब देश में पेट्रोल की कीमत 80 रुपये से भी ज्यादा हो गई है।
अब सवाल यह उठता है कि क्या इन अभिनेताओं को पेट्रोल की कीमत ज्यादा नहीं लग रही है या ये सरकार के पल्लू में छुपकर बैठ गए हैं?

Leave a Comment