शर्मनाक : खाना मांग रहे बच्चों को बंगले के मालिक ने कुत्ता से कटवाया, बचाने गए पिता भी लहूलुहान

कोरोना काल में वायरस के संक्रमण से बचाव को लेकर लागू लॉकडाउन और अब अनलॉक में समाज के संवेदनशील लोग जरूरतमंदों को भोजन से लेकर अन्य जरूरी सामान उपलब्ध करा रहे हैं, लेकिन गुरुवार को शहर के सरायढेला से एक अमानवीय घटना सामने आई, जिससे पूरी मानवता शर्मसार हो गई। दरअसर, सरायढेला के स्टील गेट क्षेत्र में स्थित एक बंगले पर पेट की खातिर गुलगुलिया परिवार के दो बच्चे खाना मांगने पहुंचे थे, जिनपर बंगले के मालिक ने अपना पालतू कुत्ता छोड़ दिया। कुत्ते के अचानक हमले से दोनों बच्चे जख्मी हो गए। यह देख उन्हें बचाने गए पिता को भी कुत्ते ने काट लिया।

ऐसे हुई घटना : धनबाद स्टेशन क्षेत्र में रहनेवाला दिनेश गुलगुलिया कोरोना के इस दौर में मांग कर अपना गुजारा कर रहा है। गुरुवार को भी वह अपने दो बच्चों को लेकर स्टील गेट क्षेत्र में भूख मिटाने के लिए घर-घर मांग रहा था। इस दौरान वह एक बंगले पर पहुंचा। गेट पर खड़ा होकर वह खाना मांगने की आवाज लगाने लगा। चूंकी गेट खुला था और बंगले के अंदर एक व्यक्ति कुत्ते को टहला रहा था। खाना मांगने की आवाज पर व्यक्ति ने पहले उन्हें वहां से भगाया। फिर भी वह नहीं गए तो आवेस में आकर उस व्यक्ति ने उनपर कुत्ते को छोड़ दिया।

किसी तरह बची जान :

गेट खुला होने के कारण मालिक के हाथ से छूटते ही कुत्ता तेजी से पहले दोनों बच्चों पर झपटा। उसने दोनों बच्चों का काटकर लहूलुहान कर दिया। बच्चों पर कुत्ते का हमला देख पिता दिनेश गुलगुलिया उन्हें बचाने दौड़ा तो कुत्ते ने उसपर भी हमला कर दिया। किसी तरह वह अपने दोनों बच्चों को लेकर वहां से जान बचाकर भागने में सफल रहा। इस घटना में तीनों जख्मी हो गए। इसके बाद वहां से इलाज के लिए पीएमसीएच पहुंचा। इस घटना के बाद से बच्चे काफी डरे हुए हैं।

भूख मिटाने गए तो मिला जख्म :

दिनेश गुलगुलिया ने बताया कि वह बड़ा बंगला देखकर वहां खाना मांगने गया था। सोचा था कि अपने व बच्चों के लिए कुछ खाना मिल जाएगा। आज काफी देर से कही कुछ भी खाने को नहीं मिला था, लेकिन क्या पता था कि बंगले वाले मालिक ऐसा करेंगे। यह घटना कभी नहीं भूल सकता।

एक बेटे का हाथ नोचा दूसरे का पैर : दिनेश ने बताया कि बंगले से अंदर से एक व्यक्ति ने कुत्ते को छोड़ दिया। कुत्ता उसने उसके दोनों बेटे को काटना शुरू कर दिया। बड़े बेटे का हाथ नोच लिया, छोटे बच्चे का पैर काट लिया। बचाने गए तो मुझ पर भी कुत्ते ने दांत गड़ा दिए। किसी तरह जान बचाकर सभी भागे। बाद में पीएमसीएच में सभी को वैक्सीन दी गई।

Leave a Comment