राजस्थान के सवाईमाधोपुर में भाजपा महिला मोर्चा की जिला अध्यक्ष व कांग्रेस की अग्रिम संगठन सेवादल महिला प्रकोष्ठ की जिला अध्यक्ष मिलकर सेक्स रैकेट चला रही थी यह दोनों महिला नेता जिला के गरीब परिवार की नाबालिक लड़कियों को अपने जाल में फंसा कर उसका उपयोग करती थी।

मामले का पर्दाफाश होने के बाद दोनों ही पार्टियों ने आरोपितों को निलंबित कर दिया है दरअसल भाजपा महिला मोर्चा की जिला अध्यक्ष सुनीता वर्मा और कांग्रेस सेवादल महिला प्रकोष्ठ की जिला अध्यक्ष पूनम चौधरी ने एक स्थानीय नाबालिक को निशुल्क पढ़ाने और फिर नौकरी लगवाने का झांसा देकर जाल में फंसाया ।

उसे अपने घर में ही रखा बाद में उसके साथ 5 लोगों ने दुष्कर्म किया विरोध करने पर उसके साथ मारपीट की पिछले सप्ताह नाबालिक मौका पाकर उनके चुंगल से निकल कर स्वजनों के पास पहुंची उसकी स्वजनों को पूरे घटनाक्रम की जानकारी दी ।

इस पर उन्होंने सवाई माधोपुर पुलिस थाने में मामला दर्ज कराया इस मामले में शुक्रवार तक 5 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है इस में सेक्स रैकेट चलाने वाले भाजपा महिला मोर्चा की जिला अध्यक्ष सुनीता वर्मा उसका साथी हीरालाल मीना शामिल है ।

आरोपी इलेक्ट्रीशियन राजू लाल रेगर सुनीता वर्मा के मकान में बिजली फिटिंग का कार्य करता था. सुनीता वर्मा से राजू लाल रेगर को बिजली फिटिंग मजदूरी के 2000 रुपये लेने थे. वह कई बार पैसे का तकाजा करने सुनीता के पास गया. उसके पश्चात आरोपी सुनीता वर्मा ने नाबालिग से दुष्कर्म करवा कर राजू रेगर से अपने पैसों का हिसाब चुकता कर लिया. कुछ इसी तरह का मामला लिपिक संदीप शर्मा के साथ रहा बताया जा रहा है.

वहीं नाबालिक के साथ दुष्कर्म करने वाले संदीप शर्मा स्वराज मीना और राजू लाल रैगर को भी गिरफ्तार किया गया यह सभी सरकारी कर्मचारी हैं इस मामले की दूसरी मुख्य अभियुक्त कांग्रेस सेवादल महिला प्रकोष्ठ की जिला अध्यक्ष पूनम चौधरी और दो अन्य आरोपी फरार है पुलिस का कहना है कि अन्य आरोपी जल्द शिकंजे में होंगे।