अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) का एक और झूठ पकड़ा गया है. रविवार को एक प्रेस कांफ्रेंस के दौरान ट्रंप ने ओबामा (Obama) प्रशासन में पास हुए एक हेल्थ केयर प्रोग्राम को अपनी उपलब्धि बता दिया. जब प्रेस कांफ्रेंस में मौजूद एक पत्रकार ने ट्रंप को इस झूठ पर टोका तो वे बिना कुछ जवाब दिए प्रेस वार्ता बीच में ही छोड़कर चले गए.

बता दें कि गार्जियन के मुताबिक ट्रंप अपने कार्यकाल में 150 से ज्यादा बार सार्वजनिक जगहों पर सफ़ेद झूठ बोलते पकड़े जा चुके हैं. सच यह है कि पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा ने इस प्रोग्राम पर 2014 में साइन किए थे. इसके तहत रिटायर्ड कर्मी किसी भी प्राइवेट हॉस्पिटल में इलाज करवा सकते हैं और खर्च सरकार ही उठाएगी. उन्हें सरकार से लिस्टेड हॉस्पिटल जाने की जरूरत नहीं होती है.

इस प्रोग्राम के तहत रिटायर्ड कर्मियों के लिए बड़ा एलान हुआ और उन्हें सरकारी खर्चे पर किसी भी निजी अस्पताल में इलाज कराने की अनुमति मिली थी.

वहीं, जब डोनाल्ड ट्रंप अमेरिका के 45वें राष्ट्रपति बने तो उन्होंने 2018 में इस प्रोग्राम का विस्तार किया था. इसके बाद ट्रंप जहां भी जाते वह इस प्रोग्राम को अपनी सरकार की उपलब्धि बताकर इसका बखान करते हैं.