क्या आप जानते हैं? अमेरिका की एक वेबसाइट ने RSS को आतंकवादी संगठन के लिस्ट में रखा था|

अमेरिका की एक वेबसाइट ने राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) को आतंकवादी संगठन की लिस्ट में डाल रखा है. इस वेबसाइट के मुताबिक संघ ऐसा है, जो हिंदू राष्ट्र स्थापित करना चाहता है, इसलिए इसे आतंकी लिस्ट में रखा गया था.

अमेरिका की एक वेबसाइट ने राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) को आतंकवादी संगठन की लिस्ट में डाल रखा था. इस वेबसाइट के मुताबिक संघ ऐसा है, जो हिंदू राष्ट्र स्थापित करना चाहता है, इसलिए इसे आतंकी लिस्ट में रखा गया था.

यही नहीं, www.terrorism.com ने अपनी वेबसाइट में लिखा था कि संघ को बीजेपी की उग्र वैचारिक जड़ माना जाता है. इस वेबसाइट में दुनियाभर के आतंकी संगठनों के बारे में लिखा गया है.

दरअसल, अमेरिका की थिंक टैंक अंतरराष्ट्रीय और घरेलू आतंकवाद से जुड़े मुद्दों पर अध्ययन करती है. www.terrorism.com ने थ्रेट ग्रुप प्रोफाइल में संघ का नाम रखा था. इस वेबसाइट को ऑब्जर्व, ऑरिएंट, डिसाइड, एक्ट (ओओडीए) नाम का संगठन चलाता है.

ओओडीए का कहना है कि यह संगठन आतंकी खतरों की पहचान कर उससे निपटने की सलाह देता है. संघ को इन्होंने अप्रैल में ही शामिल किया है और कहा जा रहा है कि इसके लेख को बीजेपी के आने के बाद थोड़ा बदला भी गया था. संघ के अलावा इस लिस्ट में सिमी का नाम भी शामिल है.

टेररिजम वॉच ऐंड वॉर्निंग नाम का यह थिंक टैंक अंतरराष्ट्रीय और घरेलू आतंकवाद से जुड़े मुद्दों पर अध्ययन और विश्लेषण करता है। इसे ऑब्जर्व, ऑरिएंट, डिसाइड, ऐक्ट (OODA) नाम का संगठन चलाता है। OODA की वेबसाइट कहती है कि यह संगठन अपने ग्राहकों को भविष्य की रणनीति बनाते वक्त नए उभर रहे मौकों के बारे में खतरों को पहचान कर उनसे निपटने से जुड़ी सलाह देता है.

Leave a Comment