BJP मंत्री की पोती के लिए हेलिकॉप्टर और पूर्व सैनिक की बेटी को इलाज नहीं! तड़पती रही मासूम

इलाज के लिए सभी के लिए एक समान काम होना चाहिए और अगर मंत्री की बच्ची के लिए हेलीकाप्टर आता है तो आम जनता के लिए भी वैसे ही सुविधा मिलनी चाहिए.

हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) के जलशक्ति मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर (Mahender Singh Thakur) की घायल पोती को हेलिकॉप्टर से एयरलिफ्ट करने के मामले में सियासत गर्मा गई है. मामले को लेकर जहां सोशल मीडिया (Social Media) पर सवाल उठाए जा रहे हैं. वहीं, अब कांग्रेस (Congress) ने भी मसले पर सवाल उठाए हैं. दरअसल, हमीरपुर में बीते सप्ताह एक पूर्व सैनिक की घायल बेटी को पांच घंटे तक इलाज नहीं मिला था. इस दौरान बच्ची स्ट्रेचर पर पड़ी रही और पूर्व सैनिक मदद के लिए डॉक्टरों से गुहार लगाता रहा, लेकिन डॉक्टरों ने बच्ची का इलाज नहीं किया.

पिता ने जताया दुख

कांग्रेस ने पूर्व सैनिक की बेटी का इलाज न करने पर सरकार और स्वास्थ्य विभाग की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाए थे. साथ ही मामले की उच्च स्तरीय जांच की मांग भी की है. पूर्व सैनिक विपिन कुमार ने भी अपनी बच्ची के इलाज न करने पर दुख जताया. लेकिन साथ ही सरकार के मंत्री के बच्ची के इलाज के लिए हेलिकॉप्टर भेजने की बात पर रोष व्यक्त किया है.

हमीरपुर के कक्कड़ के पूर्व सैनिक विपिन कुमार अपनी पांच साल की बेटी आरुषि को लेकर हमीरपुर मेडिकल कॉलेज पहुंचा था. बच्ची की टांग में दो फ्रैक्चर थे और वह सुजानपुर से रेफर की गई थी. मेडिकल कॉलेज आने के बावजूद बच्ची दर्द से तड़पती रही, लेकिन डॉक्टरों ने उसे देखा तक नहीं. इस पर पूर्व सैनिक ने सोशल मीडिया पर वीडियो डाला. बाद में निजी अस्पताल में पूर्व सैनिक ने बच्ची का इलाज करवाया. इधर, प्रदेश सरकार के मंत्री महेंद्र सिंह की पोती घर में गिरने से घायल हो गई थी, जिसे मंडी से शिमला रेफर किया गया था. बच्ची को गंभीर हालत में राज्य सरकार के हेलिकॉप्टर से बिलासपुर से एयरलिफ्ट किया गया था.

पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष सुक्खू का सवाल

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष सुखविन्द्र सिंह सुक्खू ने कहा कि इलाज के लिए सभी के लिए एक समान व्यवस्था होनी चाहिए. अगर मंत्री की बच्ची के लिए हेलिकॉप्टर आता है तो आम जनता के लिए भी वैसे ही सुविधा होनी चाहिए. कांग्रेस की पूर्व राष्ट्रीय महिला अध्यक्ष एवं प्रदेश कांग्रेस वरिष्ठ उपाध्यक्ष अनीता वर्मा ने कहा कि मंत्री की बेटी गिरती है, तो हेलिकॉप्टर से अस्पताल पहुंचाया जा रहा है. पूर्व सैनिक की बेटी के साथ हुई घटना की जांच की जाए. वहीं, हमीरपुर की सीएमओ डॉ. अर्चना सोनी पूरे मामले पर अनिभिज्ञता जताई है

Leave a Comment