पिछले दिनों राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा पर रायपुर में एफ आई आर दर्ज हुई थी. संबित पात्रा को दो जून को रायपुर पुलिस के सामने पेश होना था तो कुछ लोगों का मानना है कि रायपुर में पुलिस के सामने हाजिर ना होना पड़े इसलिए ऐसा बहाना संबित पात्रा द्वारा बनाया जा रहा है.

रायपुर पुलिस के सामने 2 जून को हाजिर होना था

पिछले 5-6 सालों मे जितनी फेक न्यूज सोशल मीडिया पर चलाई गयी है उसमे बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा का भी हाथ रहा है, संबित पात्रा टीवी पर बीजेपी के सबसे ज्यादा दिखने वाले चेहरों में से एक हैं. वह अक्सर टीवी चैनलों की डिबेट में हिस्सा लेते हैं. ट्विटर पर उनके 44 लाख से ज्यादा फॉलोवर हैं. वह सोशल मीडिया पर सबसे ज्यादा एक्टिव रहने वाले नेताओं में से एक हैं अब उनमे कोरोना के लक्षण बताये जाने की खबर चल रही है लेकिन इस खबर से थोडी देर पहले ही वो ट्वीटर पर ऑनलाइन थे।

आपको बताएं कि दिसंबर, 1974 में बोकारो में जन्मे संबित पात्रा पेशे से सर्जन हैं. दिल्ली के हिंदूराव अस्पताल में मेडिकल ऑफिसर रह चुके हैं. पात्रा 2010 में दिल्ली बीजेपी के प्रवक्ता बने. 2014 के चुनाव में उन्होंने बीजेपी का जमकर प्रचार किया. नरेंद्र मोदी पीएम बने और पात्रा पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता बन गए. साल 2019 में उन्होंने ओडिशा की पुरी सीट से लोकसभा चुनाव लड़ा था. लेकिन बीजू जनता दल के पिनाकी मिश्रा से हार गये थे।

उनके कोरोना लक्षण की खबर चलते ही वो ट्वीटर पर ट्रेंड होने लगे है उनके विरोधी तथा उनकी पार्टी के लोग जल्द स्वस्थ होने की कामना कर रहे है लेकिन सवाल ये है कि आखिर संबित पात्रा कही बाहर नही गये तो उन्हे कोरोना के लक्षण कैसे महसूस हो रहे है? वो अक्सर टीवी डिबेट अपने घर से ही कर रहे है इस लॉकडाउन के दौरान कही बाहर नही निकलते वो ऐसा अपने ट्वीट मे कई बार बता चुके हैं।

इस पर कांग्रेस नेत्री अलका लांबा ने ट्वीट किया

कुछ लोगो का मानना है कि रायपुर मे पुलिस के सामने हाजिर न होना पडे इसलिये ऐसा बहाना संबित द्वारा बनाया जा रहा है, सोशल मीडिया पर रायपुर पुलिस स्टेशन का एक नोटिस भी वायरल हो रहा है जिसमे संबित पात्रा से कहा गया है की आपको 2 जून 11 बजे थाने में हाज़िर होना है.

आपकी जानकारी के लिये बतादें कि पिछले दिनों बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा पर देश भर कई जगह FIR हुई थी जिसके बाद रायपुर पुलिस ने उन्हे हाजिर होने को कहा था लेकिन पुलिस की दी तारीख को नही पहुचे उसके बाद रायपुर पुलिस ने 2 जून को फिर से हाजिर होने को बोला है लेकिन उससे लगभग एक सप्ताह पहले ही अपने शरीर मे कोरोना के लक्षण बताकर शायद वो बचने की कोशिश कर रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here