HAJIPUR NEWS :
आपको बता दें कि बिहार के वैशाली जिले में छात्रा के साथ दरिंदगी करने वाले एक शिक्षक और उसके साथी को कोर्ट में दोषी करार किया गया है। नाबालिग बच्ची से रेप के दोषी शिक्षक और उसका साथी अब सलाखों के पीछे होंगे। षष्टम् एडीजे सह पाक्सो के विशेष न्यायाधीश आशुतोष कुमार झा ने दिन शनिवार को इस मामले की सुनवाई करते हुए यह फैसला सुनाया गया है। कोर्ट इस मामले में अगले महीने 8 मार्च को सजा पर सुनवाई करेगी।



बता दें कि मामला वैशाली जिले के महनार थाना की है, जहां पानापुर हरिगोविंदपुर राजकीय मध्य विद्यालय के एक शिक्षक समेत दो को नाबालिग छात्रा से दुष्कर्म के मामले में कोर्ट ने दोषी ठहराया है। दोषी करार किए गए शिक्षक अभिषेक कुमार उर्फ चंदन और उसका दोस्त रीतेश रंजन उर्फ बंटी महनार थाने के नारायणपुर डेढ़पुरा के रहने वाले हैं।



सरकार की ओर से मामले को कंडक्ट कर रहे पाक्सो के विशेष लोक अभियोजक मनोज कुमार शर्मा ने यह जानकारी देते हुए कहा कि शिक्षक ने उसके ट्यूशन के दौरान उस छात्रा के साथ दुष्कर्म करना शुरू किया और उसका विडियो बना लिया था। बाद में उसे वायरल कर देने की धमकी देकर वह और उसका दोस्त रीतेश एक साल तक बच्ची से दुष्कर्म करता रहा।



बाद में पीड़िता छात्रा ने अपनी मम्मी और परिजनों से आपबीती सुनायी उसके बाद मामला पुलिस तक पहुंचा तथा महनार थाने में दोनों के खिलाफ 8 मार्च 2019 को प्राथमिकी दर्ज की गई। पुलिस ने अनुसंधान के बाद अदालत में दोनों अभियुक्तों के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल किया। बता दें कि विशेष लोक अभियोजक शर्मा ने अभियोजन की ओर से आठ साक्षियों की गवाही अदालत में कराई। अदालत ने दोनों अभियुक्तों के खिलाफ पर्याप्त साक्ष्य पाते हुए उन्हें भादवि की धारा 376 ,120 बी और पाक्सो की कई धाराओं के तहत दोषी घोषित किया।