बड़ी खबर: पश्चिम बंगाल के ममता बनर्जी सरकार को लगा बड़ा झटका, अब होगा असली ‘खेला’…

आपको बता दें कि पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव(West Bengal Election) कब के खत्म हो चुके हैं। ममता बनर्जी के नेतृत्व में टीएमसी(TMC) सरकार बनाने में कामयाब रही, लेकिन सि’यासी पारा अभी तक कम होने का नाम नहीं ले रहा है। तो वही आये दिन कहीं ना कहीं कुछ छुटपुट अनेकों प्रकार के मामले पश्चिम बंगाल में देखने को मिल रहे हैं।

ममता सरकार की बड़ी सिरदर्दी

बता दे कि नारदा स्टिंग ऑप’रेशन मामले को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी(Mamta Banerjee) की मु’श्किलें और थोड़ी सी बढ़ने वाली है। क्योंकि के’स को पश्चिम बंगाल के बाहर ट्रांसफर करने की याचिका को, यहां पर गौर करने वाली बात यह है कि याचिका में सीबीआई(CBI) ने मुख्यमंत्री को भी पक्षकार बनाया है। सीबीआई ने इसके अलावा याचिका में कानून मंत्री और साथ ही टीएमसी सांसद कल्याण बनर्जी को भी शामिल किया है।

पश्चिम बंगाल के मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के तीन मंत्री अब तक हो चुके गिर’फ्तार

गौरतलब है कि नारदा स्टिंग ऑप’रेशन(Narada Sting Operation) के मामले में सीबीआई (CBI) ने टीएमसी के 2 मंत्रियों और साथ ही एक विधायक के साथ पार्टी के पूर्व नेता को सोमवार को गिर’फ्तार किया था।वही इसी घ’टना को लेकर पश्चिम बंगाल के मुख्यमंत्री ममता बनर्जी सीबीआई के दफ्तर में 6 घंटे तक ध’रने पर बैठी रही। केंद्रीय एजेंसी की कार्य’वाही के खि’लाफ राज्य में कई जगह प्रदर्शन भी हुए और साथ ही ममता बनर्जी के साथ उनके समर्थकों ने भी सीबीआई की राज्य शाखा को चारों तरफ से घे’र रखा था।

हालांकि आपको बता दें कि सीबीआई की अदालत ने इस मामले में टीएमसी के नेता फिरहाद हकीम, सुब्रत मुखर्जी, विधायक मदन मित्रा, पूर्व टीएमसी नेता और साथ ही कोलकाता के पूर्व महापौर सोवन चटर्जी को भी सोमवार को जमा’नत दे दी थी, लेकिन कलकत्ता हाई कोर्ट ने जल्द ही अदालत के आदेश के अमल पर रोक लगा दी।

जानिए नारदा स्टिंग ऑप’रेशन(Narada Sting Operation) का मामला है क्या?

आपको बता दे कि साल 2014 में पश्चिम बंगाल के एक पत्रकार ने TMC के कुल 12 नेताओं का स्टिं’ग ऑप’रेशन (Sting Operation) किया था। जिस में क’थित तौर पर 5-5 लाख रुपए नगद लेते हुए पकड़े गए थे। जिसमे की ममता बनर्जी के टीएमसी पार्टी के 7 सांसद, चार मंत्री और साथ ही टीएमसी का 1 विधायक भी शामिल था।

अब जबकि घट’नाक्रम ने नया मोड़ ले लिया है और साथ ही सीबीआई ने इस मामले में 3 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है। तो अब ममता बनर्जी के खि’लाफ असली ‘खेला’ सीबीआई करेगी। देखना होगा जां’च में आगे और क्या साबित होता है।

इस आर्टिकल को शेयर करे

Leave a Comment