NALANDA : बिहार में एक बार फिर से सेक्स रैकेट का हुआ बड़ा खुलासा किया गया है. बिहार शरीफ के कागजी मोहल्ला में चल रहे सेक्स रैकेट का पुलिस ने भंडाफोड़ किया है। देह व्यापार में लिप्त 4 महिलाओं को मुक्त कराया गया है। इसके अलावा पुलिस ने संचालक सह मकान मालिक उमेश कुमार को भी गिरफ्तार कर लिया है। वही घटनास्थल से पुलिस के द्वारा कुछ आपत्तिजनक सामान भी बरामद किये गये हैं। सदर डीएसपी डॉ. शिब्ली नोमानी के नेतृत्व में पुलिस ने ये पूरी कार्रवाई की।


वही उन्होंने बताया कि एक गुप्त सूचना के आधार पर पुलिस ने ये छापेमारी की। मकान के दूसरे तल्ले पर चलाया जा रहा था देह व्यापार का धंधा। इसके साथ ही वहां से मिले कुछ आपत्तिजनक सामानों को भी जब्त कर लिया गया है। बताया ये जा रहा है कि मकान मालिक ही इस धंधे का संचालक है। वह खुद को मेडिकल रिप्रजेंटेटिव व मेडिकल सप्लायर भी बताता है। बता दें कि अलग-अलग स्थानों की 4 महिलाओं को मुक्त कराया गया है। इसके साथ ही पुलिस उनसे पूछताछ कर रही है। जबकि मकान के दूसरे तल्ले को सील कर दिया गया है।


मिली जानकारी के मुताबिक उमेश कुमार ने अपने आसपास के लोगों पर अपना प्रभाव जमाने के लिए अपने मकान के बाहर डॉ. उमेश का नेम प्‍लेट लगा रखा था।खबर ये आ रही है कि पुलिस ने मोरल ट्रैफिकिंग एक्ट के तहत दो मंजिला मकान को पूरी तरह से सील कर दिया है ।


वही पुलिस के अनुसार उमेश कुमार वर्षों से उस मोहल्ले में जिस्‍मफरोशी का कारोबार चला रहा था । बता दे कि उस मकान से पुलिस को सेक्स वर्धक दवाइयां, ग्राहकों के फोन नंबर की सूची और साथ ही कई अन्‍य आपत्तिजनक चीजें भी मिली हैं।


मिली जानकारी के मुताबिक पुलिस को ग्राहकों की सूची में कई सफेदपोशों के भी नंबर मिले हैं। संचालक के मकान में पांच दरवाजे थे। पुलिस की भनक पाते ही उस वक्‍त मकान में मौजूद कई लोग वहां से फरार भी हो गए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here