Breaking News: गलवान घाटी में दो और सैनिक “विक्रम” और “सलीम खान” ने गवांई जान

पूर्वी लद्दाख में पिछले कुछ दिनों से जारी गतिरोध के बीच गलवान घाटी में दो और भारतीय सैनिकों ने अपनी जान गंवाई है। दरअसल, दोनों सैनिकों की मौत नदी में डूबने से हुई है। मालेगांव के रहने वाले नायक सचिन विक्रम (37) और पटियाला के लांस नायक सलीम खान (23) शहीद हो गए हैं। दोनों सैनिकों का अंतिम संस्कार शनिवार को किया गया।


इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, सेना की ओर से कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है, लेकिन सूत्रों ने कहा कि ये दुर्घटनाएं हैं और गलवान घाटी में मौजूदा स्थिति से जुड़ी घटना नहीं हैं। दोनों सैनिकों के परिजनों का कहना कहना कि उन्हें बताया गया कि ये गलवान क्षेत्र में ‘एक पुल का निर्माण’ करने वाली टीम का हिस्सा थे।

वहीं, रक्षा सूत्रों ने कहा कि सचिन की मौत गुरुवार को हुई है और सलीम के परिवार ने कहा कि उनके शहीद होने की सूचना शुक्रवार को मिली है।


सलीम के चाचा ने कहा- दो दिन पहले हुई थी बात


सलीम के चाचा बुद्दीन खान ने कहा, ‘हमें बताया गया है कि एक पुल का निर्माण किया जा रहा था और सलीम उस टीम का हिस्सा थे। वह एक नाव में थे जो पलट गई और वह डूब गए।’ सलीम की मां नसीमा बागुम ने कहा, ‘उन्होंने आखिरी बार दो दिन पहले उनसे बात की थी

उन्होंने कहा था कि वह जल्द ही घर आएंगे। उन्होंने वहां की स्थिति का विवरण कभी नहीं दिया… उन्होंने कहा कि फोन कनेक्टिविटी की समस्या हो सकती है इसलिए चिंता न करें। मैंने सब कुछ खो दिया है। वह हमारा एकमात्र सहारा था।’


सचिन ने पापा को बताया था, गलवान घाटी की स्थिति गंभीर है
सचिन के पिता विक्रमने कहा, ‘उन्होंने आखिरी बार 10 दिन पहले उनसे बात की थी। सचिन ने मुझे बताया था कि गलवान घाटी की स्थिति गंभीर है। उन्होंने मुझे भरोसा दिलाया कि वह ठीक हैं और चिंता करने की जरूरत नहीं है.

आपको बता दें, इस समय भारतीय और चीनी सेनाओं के बीच पूर्वी लद्दाख में पैंगोंग सो, गलवान घाटी, डेमचोक और दौलत बेग ओल्डी में पिछले कुछ सप्ताह से अधिक समय से गतिरोध की स्थिति बनी हुई है। गत 15 जून को गलवान घाटी में हिंसक झड़प में 20 भारतीय सैन्यकर्मियों के शहीद हो गए थे। इसके बाद दोनों देशों के बीच तनाव और बढ़ गया था।

Leave a Comment