WEST CHAMPARAN : आपको बता दें कि पेट्रोल की कीमतों में हो रहे लगातार बढ़ोतरी से लोग काफी परेशान है। समाज का हर तबका इससे काफी प्रभावित है। वही परेशानी अभी कम भी नहीं हुई थी कि पेट्रोल की जगह पानी देकर पेट्रोल पंप वालों ने लोगों की समस्याएं को और भी बढ़ा कर रख दी है। हम बात कर रहे हैं बेतिया लौरिया पथ के स्थित मिश्रौली पेट्रोल पंप की। जहां पर पेट्रोल की जगह पानी मिलने पर जब लोगों ने इस बात का विरोध किया तब उनकी परेशानी सुनने के बजाए पुलिस ने उनको अपनी गाड़ी में बैठा लिया।

बता दे कि बेतिया के लौरिया पथ स्थित मिश्रौली पेट्रोप पंप पर उस समय काफी अफरा-तफरी मच गयी जब पेट्रोल की जगह पर पानी दी जाने लगी। लोगों ने ये बताया कि लौरिया पथ स्थित मिश्रौली पेट्रोप पंप पर से पेट्रोल लेने के बाद वे जैसे ही आगे बढ़े गाड़ी बंद हो गयी। कई लोग अपनी बाइक को स्टार्ट करने की कोशिश करते रहे लेकिन वो कामयाब नहीं हो पाए। लकिन जब ये बात पता चला की पेट्रोल की जगह गाड़ी में पानी भर दिया गया है तब सभी लोगों के होश उड़ गए। वही सभी आक्रोशित लोगों ने पेट्रोल पंप के पास जमकर हंगामा मचाया। हंगामे की जानकारी पर पहुंची सिरिसिया ओपी की पुलिस ने आक्रोशित लोगों को समझाने की कोशिश की। पुलिस ने किसी तरह सभी लोगों को समझा बुझाकर कर शांत कराया। वही कुछ लोग पुलिस पर ही मारपीट का आरोप लगाते दिखे।

बता दे कि बाइक से निकल रहे पानी को देख आप खुद से अंदाजा लगा सकते है कि लोगों को कितनी जायदा परेशानियों का सामना करना पड़ा होगा। पैसा देने के बावजूद भी पेट्रोल की जगह पानी दिए जाने से कई सारे बाइक सवार लोग परेशान नजर आएं। बता दें कि लोगों ने ये बताया कि पुलिस पेट्रोल का पैसा दिलवा रही है लेकिन पेट्रोल के जगह पानी डाले जाने के कारण से बाइक बंद हो गई है । ऐसे में गाड़ी को बनाने के लिए लोगों को 13 किलोमीटर की दूरी को तय करनी होगी। गाड़ी बंद होने के बाद इतनी दूरी तय करना एक बहुत ही बड़ी समस्या बनी हुई है। लोगों का ये आरोप है कि जब पेट्रोप पंप के संचालक से गाड़ी को बनवाने की बात कही गई तो वे लोगों से मारपीट पर उतारू हो गए और साथ ही पुलिसवालों ने भी उनका ही साथ दिया। इस घटना के दौरान कुछ लोगों की पिटाई भी की गई जिसके बाद पुलिस ने उन लोगों को अपनी गाड़ी में बैठा लिया जिसे लेकर लोगों में काफी आक्रोश देखा गया।