अमेरिका से आई भारत के लिए बेहद राहत भरी खबर, कर दिया ये बड़ी मदद का ऐलान

देश में कोरोनावायरस महामारी (Coronavirus pandemic ) की दूसरी लहर का केहर अब थोड़ा सा कम होता दिख रहा है। कोरोना वायरस के दैनिक मामलों में हर रोज ही गिरावट दर्ज की जारी रही है। बीते 24 घंटे में कोरोना के 1,65,553 लाख नए मामले सामने आए है। बता दे कि कोरोना वायरस की दूसरी लहर के बीच कई देश भारत की मदद के लिए आगे आए है। इनमें से एक अमेरिका भी है जो कि इस महामारी के दौर में भारत की लगातार ही मदद कर रहा है। इसी कड़ी में अब अमेरिका भारत को w करोड़ कोरोना की वैक्सीन के लिए कच्चा माल देने जा रहा है। वही इस बात की जानकारी भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर (External Affairs Minister S Jaishankar) ने दी है।

आपको बता दें कि विदेश मंत्री एस जयशंकर इन दिनों अमेरिका के दौरे पर हैं। जहां उन्होंने शुक्रवार को अमेरिकी समकक्ष एंटनी बिल्केन से मुलाकात की। इस दौरान दोनों नेताओं ने अलग-अलग मुद्दों पर बातचीत भी की। वहीं दक्षिण और मध्य एशियाई मामलों के ब्यूरो ने भारत को कोविड-19 वैक्सीन बनाने के लिए जरूरी कच्चे की आपूर्ति को र्निर्देश दिया है, जिससे एस्ट्राजेनेका वैक्सीन की 2 करोड़ अतिरिक्त डोज़ बनाई जा सकेगी।

आपको बता दें कि उधर विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कोविड-19 से निपटने के दौरान मुश्किल समय में भारत का साथ देने के लिए बाइडन प्रशासन का शुक्रिया भी अदा भी किया। इस मौके पर बिल्केन ने कहा कि भारत और अमेरिका कोरोना वायरस महामारी के खिलाफ लड़ाई में एकजुट हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि दोनों देश इस महामारी से निपटने के लिए कई महत्वपूर्ण चुनौतियों पर मिलकर काम कर रहे हैं।

वही आगे बिल्केन ने ये भी कहा कि भारत ने कोरोना वायरस संक्रमण की पहली लहर के दौरान उनका साथ दिया। उन्होंने कहा कि कोविड-19 के शुरुआती दिनों में भारत ने अमेरिका का साथ दिया जिसे उनका देश हमेशा ही याद रखेगा।

Leave a Comment