Jharkhand News : आपको बता दें कि झारखंड के चतरा से एक ऐसा मामला सामने आया है जो कि रिश्ते को शर्म सार कर देने वाला है. यहां पर एक युवक ने अपनी ही मौसी से विवाह कर अपने पिता का साढू बन गया है. जबकि लड़की युवक के मां की बहन हुआ करती थी, वह अब साढुवाइन बन गयी. जानकारी के मुताबिक , रक्सी गांव निवासी सोनू राणा का प्रेम प्रसंग एक वर्ष से अपनी ही मौसी के साथ चल रहा था.

इसी बीच, दोनों ने हेरुआ नदी स्थित शिव मंदिर में जा कर शादी कर ली. इस शादी की सूचना जैसे ही उसके परिजन और उसके गांव वालों को हुई तो सभी ने इसका विरोध किया. साथ ही, वहां से किसी तरह से भागकर दोनों किसी नजदीकी के घर जा छुपे और साथ ही किसी तरह रात बिताने के बाद दोनों ने सदर थाना में आत्मसमर्पण कर दिया. युवक और युवती के बालिग होने के वजह से पुलिस ने दोनों के परिजनों को बुलाकर समझाया. लेकिन परिजन नहीं मान रहे हैं.

जबकि , दूसरी ओर प्रेमी युगल साथ में रहने के जिद्द पर अड़े है. ऐसे में दोनों के बालिक होने के वजह से बहुत समझाकर दोनों के परिजनों के सहयोग से शादी करा दिया गया है और साथ ही दोनों पक्ष की उपस्थिति में एक बॉन्ड भरवाकर उनके सुखमय जीवन का आशीर्वाद देकर दोनों को घर भेज दिया. इधर, जब दोनों दूल्हा-दुल्हन घर पहुंचे तो वहां कोहराम मच गया और साथ ही उसे देख कर लड़के की मां रोने लगी. साथ हीं, ग्रामीणों द्वारा दोनों के माता-पिता को समझाने के बाद पूरा मामला शांत हुआ. बता दें कि सोनू राणा हैदराबाद में कोई प्राइवेट कंपनी में काम करता है.