बीजेपी शासित उत्तर प्रदेश में एक ही ब्राह्मण परिवार के 5 लोगों की हत्या? मीडिया ने साधी चुप्पी, दो मासूम की भी गई जान

उत्तरप्रदेश में एक ही परिवार के 5 सदस्यों की हत्या कर दी गयी..जिसमे दो मासूम बच्चे थे पर, देश में कहीं किसी हिन्दू का खून नही खौला, कहीं किसी चैनल पर कोई डिबेट नही.. क्योंकी संभवतः इस मामले में हिन्दू-मुस्लिम एंगल दिया जाना संभव नही था ।आखिर क्या, इसकी एकमात्र वजह मृतकों का ब्राह्मण होना है ? यूं तो उत्तर प्रदेश में बीजेपी सरकार योगी आदित्यनाथ की सरकार है लेकिन यूपी में लॉक डाउन के बावजूद अपराध थमने का नाम नहीं ले रहा|कोरोनावायरस का प्रकोप रोकने के लिए उत्तर प्रदेश में लॉक डाउन है लॉक डाउन के बावजूद सूबे में अपराध थमने का नाम नहीं ले रही है सुबह के एटा जिले में लॉक डाउन के बीच एक ही परिवार के 5 लोगों की कथित हत्या की खबर है शनिवार सुबह एटा में रहने वाले एक परिवार के लोग घर के अंदर मृत पाए गए|

घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस ने मौके पर पहुंचे दरवाजे तोड़े और अंदर प्रवेश किया तो हाल दिल दहला देने वाला था| घर के अंदर 5 लोगों के सब लहूलुहान हालत में पड़े थे मृतकों में दो मासूम बच्चे बच्ची भी शामिल है फिलहाल पुलिस जांच में जुटी है अभी यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि यह हत्या है या सामूहिक आत्महत्या का मामला घटना के खुलासे के बाद पूरे क्षेत्र में सनसनी फैल गई है|

जानकारी के मुताबिक शनिवार सुबह करीब 9:00 बजे खबर आई कि एटा के श्रृंगार नगर में एक ही परिवार के 5 लोगों की हत्या हुई है तब आसपास के पड़ोसियों ने जब देर सुबह तक घर से किसी को बाहर आते नहीं देखा तो उन्हें शक हुआ| किसी ने पुलिस को सूचना दी पुलिस ने दरवाजा तोड़कर अंदर दाखिल हुई वहीं एसएसपी एटा सुनील कुमार सिंह का कहना है कि 5 लोगों के सब एक ही मकान में मिले हैं इन लोगों की हत्या हुई या मामला आत्महत्या का है इसकी जांच पड़ताल की जा रही है जांच भी में शीघ्र ही स्थिति साफ हो जाएगी|

इस घटना को लेकर कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने फेसबुक पर पोस्ट किया है “एटा में श्री राजेश्वर पचौरी जी के परिवार के 5 सदस्य मृतक अवस्था में पाए गए ऊंचाहार, प्रयाग राज, झांसी, शामली जैसी ही एक बार फिर उत्तर प्रदेश में यह दिल दहला देने वाली घटना घटी है| समझ नहीं आता लोग डाउन के दौरान तो कानून व्यवस्था और ज्यादा चाक-चौबंद रहनी चाहिए लेकिन फिर भी इस तरह की घटनाएं कैसे हो रही है अत्यंत निंदनीय यूपी सरकार को बिना देरी किए इस घटना की छानबीन करनी चाहिए|

अब इसी को लेकर सोशल मीडिया पर लोग सवाल उठा रहे हैं कि जब महाराष्ट्र में दो हिंदू संत की हत्या हुई तब लोग वहां की सरकार को हिंदू विरोधी बताने लगे मीडिया जमकर महाराष्ट्र सरकार को क्यों पूछा अब वही मीडिया इस घटना पर सभी खामोश हो गया|वहीं एक फेसबुक यूजर नरेंद्र झा ने लिखा है उत्तरप्रदेश में एक ही परिवार के 5 सदस्यों की हत्या कर दी गयी..जिसमे दो मासूम बच्चे थे पर, देश में कहीं किसी हिन्दू का खून नही खौला, कहीं किसी चैनल पर कोई डिबेट नही.. क्योंकी संभवतः इस मामले में हिन्दू-मुस्लिम एंगल दिया जाना संभव नही था ।आखिर क्या, इसकी एकमात्र वजह मृतकों का ब्राह्मण होना है| ?

Leave a Comment