लद्दाख सीमा पर हिंसक झड़प के बाद 34 भारतीय सैनिक लापता :रिपोर्ट

चीनी सैनिकों द्वारा कल रात लद्दाख की गालवान घाटी में हुए हिंसक संघर्ष में तीन भारतीय सैनिक शहीद हो गए, जिसके बाद एक पूर्ण युद्ध की आशंका तेज हो गई है।

टेलीग्राफ ने भारतीय सेना के वरिष्ठ सूत्रों के हवाले से बताया कि गलगाव घाटी में भारत और चीन के बीच कल रात आमने-सामने होने के बाद, “तीस-चालीस भारतीय सैनिक भी लापता हैं – माना जा रहा है कि या तो शहीद हो गए या उन्हे हिरासत में लिया गया है,”

रिपोर्ट में कहा गया है कि सरकार द्वारा इसकी पुष्टि नहीं की गई है। हालांकि, सेना ने इस बात की पुष्टि की है कि “हिंसक आमना-सामना” में एक भारतीय अधिकारी और सेना के दो जवान शहीद हो गए थे।

सेना ने एक बयान में कहा, “गालवान घाटी में डे-एस्केलेशन प्रक्रिया के दौरान, कल रात दोनों पक्षों के हताहतों के साथ एक हिंसक सामना हुआ। भारतीय पक्ष पर जानमाल के नुकसान में एक अधिकारी और दो सैनिक शामिल हैं। ”

रिपोर्ट में कहा गया है कि सरकार द्वारा इसकी पुष्टि नहीं की गई है। हालांकि, सेना ने इस बात की पुष्टि की है कि “हिंसक आमना-सामना” में एक भारतीय अधिकारी और सेना के दो जवान शहीद हो गए थे।

सेना ने एक बयान में कहा, “गालवान घाटी में डे-एस्केलेशन प्रक्रिया के दौरान, कल रात दोनों पक्षों के हताहतों के साथ एक हिंसक सामना हुआ। भारतीय पक्ष पर जानमाल के नुकसान में एक अधिकारी और दो सैनिक शामिल हैं। ”

चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता झाओ लिजियन ने एक अन्तर्राष्ट्रीय समाचार एजेंसी एएफपी को बताया कि “भारत के सैनिकों ने सोमवार को दो बार सीमा रेखा पार की और चीनी सैनिकों को उकसाया और उन पर हमला किया, जिसके परिणामस्वरूप दोनों पक्षों में सीमा बलों के बीच गंभीर शारीरिक टकराव हुआ,”

ग्लोबल टाइम्स ने विदेश मंत्रालय का हवाला देते हुए कहा, “भारतीय सैनिकों ने सोमवार को दो बार सीमा पर अवैध रूप से सीमा पार करने और चीनी सैनिकों पर भड़काऊ हमलों को अंजाम देकर दोनों पक्षों की आम सहमति का गंभीर उल्लंघन किया।”

Leave a Comment