उन्होंने कहा था कि कांग्रेस सरकार में पेट्रोल-डीजल के दामों के जरा-सी बढ़ोतरी पर एक महिला मंत्री सरकार को चूड़ियां भेंट करने पहुंच जाती थीं, अब मौका आया है कि वह देश के प्रधानमंत्री को चूड़ियों के साथ कुछ और पेश कर दें।

दरअसल, पेट्रोल-डीजल की कीमतों में लगातार हो रही बढौतरी को लेकर गुरुवार को कांग्रेस ने सड़कों उतर कर साइकिल रैली निकाल विरोध प्रदर्शन किया था। इसी दौरान मीडिया से बात करते हुए कांग्रेस विधायक ने स्मृति ईरानी के खिलाफ अमर्यादित और अशोभनीय भाषा का इस्तेमाल किया था। उन्होंने कहा था कि कांग्रेस सरकार में पेट्रोल-डीजल के दामों के जरा-सी बढ़ोतरी पर एक महिला मंत्री सरकार को चूड़ियां भेंट करने पहुंच जाती थीं, अब मौका आया है कि वह देश के प्रधानमंत्री को चूड़ियों के साथ कुछ और पेश कर दें।

दरअसल स्मृति ईरानी जब भारत में यूपीए की सरकार थी तब उन्होंने प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को चूड़ियां भेंट करने की बात कही थी और महंगाई के खिलाफ वह हर रोज प्रदर्शन करते थे महंगाई बढ़ रही है और मोदी के मंत्री स्मृति ईरानी चुप है.

कांग्रेस विधायक शशांक भार्गव केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी पर अमर्यादित टिप्पणी करके मुश्किलों से घिर गए। इसे लेकर उनके खिलाफ सिटी कोतवाली में विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज हुआ है। एफआईआर दर्ज होने के कुछ देर बाद ही गुस्साए बीजेपी नगर पालिका अध्यक्ष मुकेश टंडन और उनके साथियों पर भार्गव की फैक्ट्री में पथराव करने का आरोप है। इस हमले में विधायक शशांक भार्गव के कमरे का कांच तोड़ने का आरोप है। मामला बढ़ा तो सूचना मिलते ही कोतवाली पुलिस भार्गव के फैक्ट्री पर पहुंच गई

कांग्रेस विधायक भार्गव के इस बयान के बाद बीजेपी कार्यकर्ता भड़क उठे। इसे विवादित टिप्पणी को लेकर विदिशा से बीजेपी के नगर पालिका अध्यक्ष मुकेश टंडन अपने पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ सिटी कोतवाली में उनके खिलाफ FIR की मांग की। मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस ने भार्गव के खिलाफ धारा 294, 504B के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। मुकेश टंडन ने कहा भार्गव के बयान से केंद्रीय महिला मंत्री और देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के चरित्र का हनन हुआ है। ये सरासर महिलाओं का अपमान है। इसको लेकर उनके खिलाफ एफआईआर करवाई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here